ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशआज आगरा में दौड़ेंगे किसानों के ट्रैक्टर, रूट तय, इन रास्तों से निकलेंगे

आज आगरा में दौड़ेंगे किसानों के ट्रैक्टर, रूट तय, इन रास्तों से निकलेंगे

एमएसपी पर कानूनी गारंटी सहित अन्य मांगों को लेकर आज भी किसान विरोध प्रदर्शन करेंगे। इसके तहत आगरा और एमजी रोड पर आज किसानों के ट्रैक्टर दौड़ेंगे। किसान ट्रैक्टर के साथ जिला मुख्यालय की ओर कूच करेंगे।

आज आगरा में दौड़ेंगे किसानों के ट्रैक्टर, रूट तय, इन रास्तों से निकलेंगे
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,आगराWed, 21 Feb 2024 06:08 AM
ऐप पर पढ़ें

एमएसपी पर कानूनी गारंटी सहित अन्य मांगों को लेकर आगरा और एमजी रोड पर आज किसानों के ट्रैक्टर दौड़ेंगे। पूरे जनपद के किसान ट्रैक्टर के साथ जिला मुख्यालय की ओर कूच करेंगे और जिलाधिकारी को ज्ञापन देंगे। भारतीय किसान यूनियन टिकैत के आह्वान पर ये प्रदर्शन होगा। इसके लिए पदाधिकारियों ने गांव-गांव जनसंपर्क भी किया है।

यूनियन के तय कार्यक्रम के अनुसार जिलाध्यक्ष राजवीर लवानियां के नेतृत्व में सभी किसान प्रतापपुरा चौराहे पर ट्रैक्टरों से इकते होंगे। उन्होंने बताया कि सुबह 10 बजे जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया जाएगा। इस ट्रैक्टर रैली में खेरागढ़, फतेहपुर सीकरी, किरावली, अकोला, अछनेरा और बिचपुरी के किसान मंडल कैंप कार्यालय बाद से चलेंगे। फतेहाबाद, शमशाबाद, बरौली अहीर, एत्मादपुर, खंदौली और बाह के किसान अपने ट्रैक्टरों के साथ होटल रमाडा फतेहाबाद रोड होकर चलेंगे। सभी किसान अपने-अपने ट्रैक्टरों के साथ प्रतापपुरा चौराहा पर पहुंचेंगे। यहां से एक साथ कलेक्ट्रेट की तरफ ट्रैक्टरों से कूच करेंगे। किसान शांतिपूर्ण ढंग से डीएम आगरा को ज्ञापन देंगे।

असदुद्दीन ओवैसी के खिलाफ गैरजमानती वारंट, जानें पूरा मामला

गदपुरा से निकलेगा ट्रैक्टर मार्च
भाकियू के मंडल अध्यक्ष युवा विपिन चौधरी ने बताया कि सुबह नौ बजे गांव गदपुरा से ट्रैक्टर मार्च निकलेगा। भाकियू के पदाधिकारी और किसान रहनकला टोल प्लाजा तक शामिल होते चले जाएंगे। उसके बाद फतेहाबाद रोड होते हुए ट्रैक्टर मार्च प्रतापपुरा चौराहे पर पहुंचेगा। रहनकला रायपुर मौजा के दर्जनों गांव खतौनी से नाम हटाने के संदर्भ में आंदोलित हैं। किसान जल समाधि लेने के लिए मजबूर हैं। मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद भी किसानों को मुआवजा नहीं दिया गया है।

हाल ही में मुजफ्फरनगर महापंचायत में यूपी के किसानों ने निर्णय लिया गया कि 21 फरवरी को उत्तरप्रदेश के जिला मुख्यालयों पर भारतीय किसान प्रदर्शन करेंगे। साथ ही 26 और 27 फरवरी को भी हरिद्वार से गाजीपुर बॉर्डर तक के नेशनल हाईवे पर सड़क के एक किनारे दिल्ली की तरफ मुंह करके किसानों के ट्रैक्टर खड़े करके ट्रैक्टर आंदोलन करने का प्रस्ताव है जिस पर विचार किया जा रहा है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें