ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशचंबल के बीहड़ में पांच किमी तक फैली आग, गांव की ओर बढ़ी, जंगलों में देर रात उठता रहा धुआं

चंबल के बीहड़ में पांच किमी तक फैली आग, गांव की ओर बढ़ी, जंगलों में देर रात उठता रहा धुआं

आगरा में चंबल के बीहड़ में करीब पांच किलोमीटर में अज्ञात कारणों से भीषण आग लग गई। बुझाने के प्रयास में फायर ब्रिगेड व वन विभाग की टीम के साथ ग्रामीणों ने मदद की। जंगलों में देर रात भी धुआं उठा।

चंबल के बीहड़ में पांच किमी तक फैली आग, गांव की ओर बढ़ी, जंगलों में देर रात उठता रहा धुआं
Srishti Kunjहिन्दुस्तान टीम,आगराWed, 01 May 2024 08:24 AM
ऐप पर पढ़ें

आगरा में चंबल के बीहड़ में मंगलवार शाम को करीब पांच किलोमीटर क्षेत्र में अज्ञात कारणों से भीषण आग लग गई। जिसे बुझाने के प्रयास में फायर ब्रिगेड व वन विभाग की टीम के साथ ग्रामीण मंगलवार देर शाम तक लगे रहे। थाना बासोनी क्षेत्र के गांव लाल का पुरा, बासोनी के नीचे चंबल के बीहड़ में जब धुआं उठता हुआ दिखाई दिया तब ग्रामीण दौड़कर मौके पर पहुंचे। जहां आग को बड़े एरिया में फैला देख तत्काल पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने फायर ब्रिगेड व वन विभाग को सूचना दी। 

वन विभाग और फायर ब्रिगेड की टीम के साथ ग्रामीण व पुलिस देर शाम तक आग बुझाने के प्रयास में जुटे रहे। ग्रामीणों का मानना था कि करीब पांच किलोमीटर के एरिया में आग लगी है। बीहड़ से गांव की ओर बढ़ रही आग पर तो काबू पा लिया, लेकिन बीहड़ के अंदर चंबल की ओर से देर रात तक धुआं उठता रहा। वहीं, रेंजर बाह उदय प्रताप सिंह ने बताया कि वन विभाग की टीम फायर ब्रिगेड और ग्रामीणों के साथ आग बुझाने में जुटे हैं। जब तक आग बुझ नहीं जाती, तब तक एरिया का पता नहीं लग सकता है।

श्रीकृष्ण जन्मभूमि-ईदगाह विवाद पर हाईकोर्ट में आज भी होगी सुनवाई, एक और वाद दायर

रिहावली का 150 बीघा जंगल जलकर राख
फतेहाबाद थाना क्षेत्र के गांव रिहावली के जंगल में सोमवार रात अज्ञात कारणों से आग लग गई। इससे हजारों पेड़-पौधे व छोटे-मोटे जीव जंतु जलने की आशंका है। आग से करीब 150 बीघा जंगल जलकर राख हो गया। रास्ता न होने के कारण फायर ब्रिगेड की गाड़ी मौके तक नहीं पहुंच सकी। प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना फतेहाबाद क्षेत्र के गांव रिहावली में सोमवार की रात अचानक जंगल में आग लग गई। आग की लपटों को देखकर गांव के लोग मौके की तरफ दौड़े और आग बुझाने की कोशिश की। लेकिन, आग विकराल रूप धारण कर चुकी थी। घटना की जानकारी ग्रामीणों ने फायर ब्रिगेड को दी। फायर ब्रिगेड की गाड़ी वहां पर पहुंची, लेकिन रास्ता न होने के कारण मौके तक नहीं पहुंच सकी।