DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उन्नाव रेपकांडः माखी का पूर्व थानेदार समेत एसआई को सीबीआई ने किया गिरफ्तार

उन्नाव रेप कांड में पूर्व थानेदार और दरोगा गिरफ्तार

उन्नाव रेपकांड और पीड़िता के पिता की हत्या के मामले में सीबीआई ने बुधवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए माखी थाने के तत्कालीन थानेदार अशोक सिंह भदौरिया और दरोगा कांता प्रसाद सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। सीबीआई द्वारा दोनों से लम्बी पूछताछ के बाद देर शाम दोनों की गिरफ्तारी की घोषणा कर दी। गुरुवार को दोनों सीबीआई कोर्ट में पेश किए जाएंगे।

सीबीआई जांच के दौरान पीड़ित परिवार की ओर से आरोप लगाया गया था कि 4 जून 2017 को रेप की घटना के बाद माखी पुलिस ने साजिश के चलते दबा दिया था।  3 अप्रैल को कचहरी पेशी से लौटे पीड़िता के पिता की विधायक के भाई अतुल सिंह सेंगर ने साथियों के साथ मिलकर पिटाई की थी। 9 अप्रैल को तड़के पीड़िता के पिता की जिला अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई थी। इस प्रकरण में थानेदार अशोक सिंह भदौरिया और बीट दरोगा कांता प्रसाद सिंह की ओर से पीड़िता के पिता के खिलाफ फर्जी रिपोर्ट लिखकर जेल भेज दिया गया था। जब सीबीआई ने पीड़िता के पिता पर रिपोर्ट दर्ज कराने वाले उसके चचेरे भाई टिंकू सिंह को गिरफ्तार किया तो हकीकत सामने आ गई। सूत्रों के अनुसार टिंकू सिंह ने सीबीआई को बयान दिया है कि पुलिस के कहने पर उसने पीड़िता के पिता के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। इसके अलावा उसने और भी बहुत सी जानकारियां सीबीआई को दी। एक महीने की जांच और टिंकू के बयानों से मिले तथ्यों को लेकर सीबीआई ने अहम सबूत जुटाए। जिसके बाद सीबीआई ने बुधवार को माखी थाने के पूर्व थानेदार अशोक सिंह भदौरिया और बीट दरोगा कांता प्रसाद सिंह को गिरफ्तार कर लिया। पीड़ित परिवार का आरोप था कि पुलिस ने विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के इशारे पर काम किया है। मामले में दोनों पुलिसकर्मी पहले से निलंबित चल रहे थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Unnao Rapekand: SI has been arrested by the CBI along with former SHO of Makhi police station