unnao rape victim s father died who was beaten up by brother of bjp mla - उन्नाव: विधायक के भाई की पिटाई से रेप पीड़िता के पिता की मौत, जानें अब तक क्या-क्या हुआ 1 DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उन्नाव: विधायक के भाई की पिटाई से रेप पीड़िता के पिता की मौत, जानें अब तक क्या-क्या हुआ

उन्नाव रेप केस में प्रशासन की बड़ी कार्रवाई
उन्नाव रेप केस में प्रशासन की बड़ी कार्रवाई

यूपी के उन्नाव में हुए गैंगरेप में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर रेप का आरोप लगाने वाली युवती के पिता की सोमवार को मौत के बाद सियासत गरमा गई। इस मामले में सरकार ने फौरन कार्रवाई करते हुए पिता की पिटाई करने के आरोपी चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही माखी थाने के इंस्पेक्टर समेत छह पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एडीजी लखनऊ जोन से जांच कर दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने को कहा है। उन्होंने कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा। वहीं सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने सरकार पर नाकामी का आरोप लगाते हुए सीएम से इस्तीफे की मांग की है।

इस बीच, आरोपी भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर मुख्यमंत्री से मिलने लखनऊ के एनेक्सी पहुंचे और खुद को बेकसूर बताया। इस मामले में उन्नाव के माखी थाने की पुलिस ने एकतरफा कार्रवाई करते हुए युवती के घायल पिता को ही जेल भेज दिया था। इस घटना से पीड़ति परिवार के लोगों में भारी आक्रोश है। परिवारीजन विधायक के भाई की गिरफ्तारी के बाद ही पोस्टमार्टम कराने की मांग पर अड़े हैं। युवती ने रविवार को विधायक पर रेप का आरोप लगाते हुए लखनऊ में सीएम आवास के बाहर आत्मदाह का प्रयास किया था। इसके बाद लखनऊ से लेकर उन्नाव तक अधिकारियों में हड़कंप मच गया।

माखी थानाक्षेत्र निवासी युवती के पिता को रविवार रात करीब नौ बजे हालत बिगड़ने पर जिला जेल से जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। ड्यूटी पर तैनात डॉ. गौरव अग्रवाल को जेल पुलिस की ओर से बताया गया था कि पेट में दर्द है और उल्टी हो रही है। इलाज शुरू जरूर किया गया लेकिन सोमवार तड़के करीब 3.45 बजे पिता की मौत हो गई। पत्नी, मां और बच्चों ने आरोप लगाया कि विधायक के इशारे पर जेल में उन्हें पीटा गया। मौत के बाद उन्नाव से लेकर लखनऊ तक के अफसर सक्रिय हो गए। एसपी का शिकंजा कसते ही पुलिस ने ताबड़तोड़ गिरफ्तारियां शुरू कर दीं।

डीएम रवि कुमार एनजी और एसपी पुष्पांजलि ने पोस्टमार्टम हाउस पर पहुंचकर पीड़ित परिवार से पंचनामा के कागजों पर हस्ताक्षर को कहा लेकिन वे तैयार नहीं हुए। उनका कहना था कि जब तक विधायक के भाई अतुल सिंह का नाम शामिल कर गिरफ्तारी नहीं की जाती, वे पोस्टमार्टम नहीं कराएंगे। परिवारीजन विधायक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने की भी मांग कर रहे हैं। एसपी का कहना है कि मामले की जांच चल रही है। अन्य आरोपी भी नहीं छोड़े जाएंगे।

मामले में किसी को बख्शा नहीं जाएगा : मुख्यमंत्री
मामले में किसी को बख्शा नहीं जाएगा : मुख्यमंत्री

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा,उन्नाव मामले में किसी को बख्शा नहीं जाएगा। सीएम ने कहा कि हमारी सरकार ने पहले ही इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। रविवार को ही इस मामले में एडीजी लखनऊ को पूरी जांच करने को कहा है और जो भी दोषी होगा उस पर कार्रवाई होगी। पुलिस की लापरवाही कहीं पर है तो ऐसे दोषियों पर कार्रवाई होगी। पहले ही सरकार कह चुकी है कि किसी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा। सरकार-कानून किसी भी दोषी संग रियायत नहीं करेगी।


विधायक बोले उच्चस्तरीय जांच हो
बांगरमऊ से भाजपा के विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने कहा कि उनके खिलाफ लगाए गए सभी आरोप सरासर झूठे हैं वह खुद चाहते हैं कि इन आरोपों की निष्पक्ष और उच्च स्तरीय जांच करा ली जाए। वह सोमवार की शाम को मुख्यमंत्री से मिलने एनेक्सी आए हुए थे।

 

घटनाक्रम पर एक नजर

  • 3 अप्रैल को युवती के पिता को विधायक समर्थक टिंकू व उनके साथियों ने पीटा ’  
  • पीटने के बाद उन्हें पुलिस को सौंपा, पुलिस ने घायल पप्पू को अस्पताल भेजा’
  • जिला अस्पताल में मेडिकल पीड़िता पिता के बदन पर 19 चोट के निशान मिले’
  • पीड़िता ने विधायक के भाई अतुल पर साथियों संग पीटने का आरोप लगाया’
  • 5 अप्रैल को पीड़िता के पिता को जेल भेजा, दूसरे पक्ष पर कोई कार्रवाई नहीं’
  • 8 अप्रैल को पीड़िता ने विधायक पर रेप का आरोप लगा लखनऊ में मुख्यमंत्री आवास पर आत्मदाह का प्रयास किया’
  • 9 अप्रैल को पीड़िता के पिता की मौत के बाद उन्नाव से लखनऊ तक हड़कंप
  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:unnao rape victim s father died who was beaten up by brother of bjp mla