DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सात रेलवे स्टेशनों को बम से उड़ाने की धमकी देने में दो संदिग्ध आतंकी भाई गिरफ्तार

arrested  symbolic image

दिल्ली-यूपी के सात रेलवे स्टेशनों को 72 घंटे में बम से उड़ाने की धमकी भरा मैसेज भेजने वाले दो संदिग्ध आतंकी भाइयों को शामली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। उनके मोबाइल से गोला-बारूद इकट्ठा करने और बम धमाके की तैयारियां करने जैसी ऑडियो मिली हैं। एटीएस और अन्य सुरक्षा एजेंसियों ने उनसे पूछताछ की। अभी स्पष्ट नहीं हो पाया है कि क्यों और किसके कहने पर ये मैसेज भेजे गए। कोर्ट ने दोनों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में लेते हुए जेल भेज दिया।

14 मई को गाजियाबाद और शामली एसपी की ऑफिशियल ईमेल आईडी पर निजामुद्दीन, गाजियाबाद, मेरठ, शामली सहित सात रेलवे स्टेशनों को बम से उड़ाने का मैसेज आया था। ऐसा ही ईमेल सीबीसीआईडी, इंटेलीजेंस और सुरक्षा मुख्यालय लखनऊ को भेजा गया था। शामली कोतवाली में आईपीसी 505 और 66एफ आईटी एक्ट में मुकदमा दर्ज करते हुए केस की जांच साइबर क्राइम सेल के प्रभारी कर्मवीर सिंह को दी गई।

दिल्ली और यूपी के 7 रेलवे स्टेशनों को बम से उड़ाने की धमकी

जीमेल आईडी का डिटेक्शन करने के बाद शामली पुलिस ने दो संदिग्ध आतंकियों को रोडवेज बस स्टैंड शामली से बुधवार देर शाम गिरफ्तार कर लिया। गुरुवार को शामली में प्रेस वार्ता करते हुए एसपी अजय कुमार पांडेय ने बताया कि पकड़े गए अभियुक्त गुलजार और शहजाद हैं। दोनों मेरठ में कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र के नंगलाताशी के रहने वाले हैं और सगे भाई हैं। एक दर्जी और दूसरा सुई-धागा बेचने का काम करता है। गुलजार पांचवीं और शहजाद 10वीं पास है।

दोनों संदिग्धों से तीन मोबाइल मिले हैं। मोबाइलों में धमकी भरी ईमेल, मैसेज मिले हैं। कुछ आपत्तिजनक ऑडियो कॉल मिली हैं, जिसमें गोला-बारूद का इंतजाम करने और बम धमाकों की बात कही गई है। यूपी एटीएस, इंटेलीजेंस, एलआईयू सहित अन्य सुरक्षा एजेंसियों ने शामली पहुंचकर दोनों संदिग्धों से पूछताछ की है। मोबाइलों को एटीएस की फोरेंसिक लैब में परीक्षण के लिए भेजा जा रहा है।

तीन अन्य संदिग्धों से पूछताछ
मुख्य आरोपी गुलजार की निशानदेही पर शामली पुलिस ने मेरठ में विभिन्न क्षेत्रों से कुल पांच लोगों को उठाया था। पूछताछ के बाद दो को गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि तीन से पूछताछ कर छोड़ दिया गया। उप्र एटीएस का दावा है कि फिलहाल टेरर कनेक्शन जैसी कोई बात सामने नहीं आई है लेकिन मोबाइल से जो साक्ष्य मिले हैं, उससे इस बात से भी इंकार नहीं किया जा सकता कि इनका संबंध खतरनाक लोगों से हो सकता है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Two suspected terrorist arrested for threatening to blast seven railway stations with bombs