DA Image
4 जून, 2020|5:03|IST

अगली स्टोरी

दो सौ मिली का सैनिटाइज़र अब मिलेगा सौ रुपये में

hand sanitizer

कोरोना संक्रमण से रोकथाम के लिए इन दिनों बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किए जा रहे हैण्ड सैनिटाइज़र की खुले बाजार में पैदा हुई कमी जल्द ही दूर हो जाएगी। प्रदेश के गन्ना विकास व चीनी उद्योग विभाग ने हैण्ड सैनिटाइज़र के उत्पादन के लिए चीनी मिलों को आवश्यक लाइसेंस देने की प्रक्रिया तेज कर दी है।
 लाइसेंस मिलने के बाद राज्य की 16 निजी चीनी मिलों और चार औद्योगिक इकाइयों ने सैनिटाइजर का उत्पादन शुरू भी कर दिया है। गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग विभाग के प्रमुख सचिव संजय आर.भूसरेड्डी ने यह जानकारी दी है। 
उन्होंने बताया कि इन हैंड सैनिटाइज़र के दाम भी निर्धारित कर दिए गए हैं। 200 एमएल का सैनिटाइज़र 100 रुपये में और 500 एमएलका सैनिटाइज़र 200 रुपये में मिलेगा। उन्होंने बताया कि शुरुआत में इन चीनी मिलों व इकाइयों की ओर से करीब 40 हजार लीटर सैनिटाइज़र का रोजाना उत्पादन करने की तैयारी की गई है।भविष्य में इस उत्पादन को और बढ़ाया भी जाएगा। इनमें मेसर्स मोदी ब्यूटी प्रोडक्ट प्रा.लि मोदीनगर 4000 लीटर प्रतिदिन, मेसर्स जुबिलियंट लाइफ साइंस 427 लीटर, मे.मोदी कैमिकल प्रा.लि. 200 लीटर प्रतिदिन, अल्को केम काम्पलेक्स मुजफ्फरनगर 3000 लीटर प्रतिदिन हैंड सैनिटाइज़र बनाएंगे। इनके अलावा मेरठ की  दौराला शुगर वर्कस डिस्टलरी, सीतापुर की अवध शुगर मिल हरगांव, बिजनौर की अवध शुगर मिल स्योहारा, हापुड़ की सिमभावली चीनी मिल में से प्रत्येक मिल प्रतिदिन  2000 लीटर हैण्ड सेनेटाइजर बनाएगी। 
बलरामपुर जिले की बलरामपुर और बिजनौर की धामपुर और उत्तम शुगर मिल रोजाना पांच-पांच हजार लीटर, अयोध्या की के.एम.शुगर मिल लि.मोतीनगर डिस्टलरी, सीतापुर की डालमिया भारत शुगर डिस्टलरी, शाहजहांपुर की डालमिया भारत शुगर, लखीमपुर खीरी की गोबिन्द शुगर मिल, हरदोई की डीसीएम श्रीराम लि., लखीमपुर खीरी की डीसीएम श्रीराम लि., सीतापुर की सक्सेरिया बिसंवा शुगर  मिल में से हर मिल रोजाना एक-एक हजार लीटर हैण्ड सेनेटाइजर बनाएंगी। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Two hundred ml sanitizer will now be available for hundred rupees