ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशअपने ही निकले कातिल; दो सगे भाइयों ने बहन की हत्या कर पेट्रोल से जलाया शव, इस बात से नाराज थे आरोपी

अपने ही निकले कातिल; दो सगे भाइयों ने बहन की हत्या कर पेट्रोल से जलाया शव, इस बात से नाराज थे आरोपी

यूपी के हरदोई में 30 मई को एक युवती की अधजला शव मिलने के मामले में पुलिस ने खुलासा किया है। युवती के दो सगे भाइयों ने ही उसकी हत्या कर पेट्रोल से शव जला दिया था।

अपने ही निकले कातिल; दो सगे भाइयों ने बहन की हत्या कर पेट्रोल से जलाया शव, इस बात से नाराज थे आरोपी
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,हरदोईMon, 17 Jun 2024 03:07 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के हरदोई के अतरौली थाना क्षेत्र में 30 मई को एक युवती का अधजला शव मिलने के मामले में पुलिस ने रविवार को खुलासा किया। युवती की हत्या किसी और ने नहीं बल्कि उसी के दो सगे भाइयों ने की थी। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है। जिस कार से युवती को यहां तक लाया गया पुलिस ने उसे भी बरामद कर लिया। पूछताछ में दोनों आरोपियों ने बताया कि बहन गैर समुदाय के एक युवक से प्यार करती थी इसी बात से परिजन एतराज रखते थे। समझाने पर जब वह नहीं मानी तो उसकी हत्या कर दी। 

अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी नृपेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि लखनऊ के थाना काकोरी के मोहल्ला कायस्थाना की रहने वाली बिट्टी उर्फ संगीता का शव अतरौली थाना क्षेत्र में मिला था। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जांच शुरू की गई। इसमें युवती के भाई दुर्गेश सैनी और शंकर उर्फ रवि की भूमिका संदिग्ध प्रतीत हुई। दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो सच सामने आ गया।

एएसपी के अनुसार दोनों भाइयों ने बताया कि उसकी बहन बिट्टी एक गैर समुदाय के युवक से प्रेम करती थी। इसका पूरा परिवार विरोध कर रहा था। कई बार मना किया गया, लेकिन वह नहीं मानी। इसी बात से खफा होकर 30 मई को मौसी की तबीयत खराब होने का बहाना बनाकर उसको कार में लेकर अतरौली थाना क्षेत्र में आए। अतरौली थाना क्षेत्र के ग्राम पवैया से गहडोल जाने वाले मार्ग पर सुनसान इलाके में पतवार रखी हुई थी। उसी स्थान पर बिट्टी का गला दबाकर मार डाला। फिर उसे पतवार से ढंककर पेट्रोल डालकर आग लगा दी।

सीसीटीवी फुटेज के सहारे लखनऊ तक पहुंची पुलिस टीम एएसपी पूर्वी ने बताया कि घटना के समय जब पुलिस टीम मौके पर पहुंची तो पता चला कि एक कार आई थी। जिसमें दो लोग सवार थे। इसके बाद कार पर सवार दोनों का हुलिया लोगों ने बताया। इसके बाद अन्य सीसीटीवी फुटेज खंगालना शुरू किए गए। इसी दौरान एक स्थान पर फुटेज में कार और बताई गई होलिया के आधार पर आरोपितों की तस्वीर देखने को मिली। इसके आधार पर पुलिस लखनऊ आरोपियों के घर तक पहुंच गई।

Advertisement