ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशलखनऊ में ट्रिपल मर्डर, जमीन पैमाइश को लेकर अंधाधुंध फायरिंग, तीन लोगों की गोली मारकर हत्या

लखनऊ में ट्रिपल मर्डर, जमीन पैमाइश को लेकर अंधाधुंध फायरिंग, तीन लोगों की गोली मारकर हत्या

यूपी की राजधानी लखनऊ में जमीन की पैमाइश को लेकर खूनी संघर्ष हो गया। बंटवारे को लेकर परिवार के लोग ही आपस में भिड़ गए। परिवार के दो पक्षों में जमकर मारपीट होने लगी। इसी बीच फायरिंग भी शुरू हो गई।

लखनऊ में ट्रिपल मर्डर, जमीन पैमाइश को लेकर अंधाधुंध फायरिंग, तीन लोगों की गोली मारकर हत्या
Dinesh Rathourलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊFri, 02 Feb 2024 08:39 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी की राजधानी लखनऊ में जमीन की पैमाइश को लेकर खूनी संघर्ष हो गया। जमीन का बंटवारा को लेकर शुरू हुए विवाद में एक ही परिवार के तीन लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। लेखपाल की पैमाइश के दौरान सिर्फ छह फुट जमीन को लेकर विवाद शुरू हुआ। विवाद बढ़ने पर एक पक्ष की ओर से हिस्ट्रीशीटर लल्लन अपने बेटे समेत चार लोगों के साथ गाड़ी से फरीद के घर पहुंच गये। घर में घुसते ही लाइसेंसी असलहे से फायरिंग कर फरीद की पत्नी फरहीन खान (38), बेटे हंजला (16) और चचेरे भाई मुनीर अहमद उर्फ ताज (50) की हत्या कर दी। बीच-बचाव में दो अन्य लोगों को भी छर्रे लगे हैं। घटना से आस पास तनाव को देखते हुए भारी फोर्स तैनात कर दी गई। हमलावरों की गिरफ्तारी के लिए तीन टीमें बना दी गईं। पुलिस अफसरों का कहना है कि दोनों पक्षों के कई साल से विवाद है। इसका मुकदमा भी एसडीएम कोर्ट में विचाराधीन है।

लेखपाल के सामने ही शुरू हो गया झगड़ा 

मोहम्मदनगर निवासी फरीद और उनके परिवार के लल्लन उर्फ सिराज के बीच पुश्तैनी जमीन के बंटवारे को लेकर लम्बे समय से विवाद है। उनका मुकदमा एसडीएम की कोर्ट में चल रहा था। एसडीएम के आदेश पर लेखपाल रघुवीर यादव को पैमाइश करने मोहम्मदनगर भेजा गया था। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक शुक्रवार शाम करीब तीन बजे लेखपाल पैमाइश कर रहा था। यह जगह फरीद के घर से करीब तीन किमी.दूर है। पैमाइश के दौरान ही फरीद व लल्लन के बेटे फराज के बीच कहासुनी होने लगी। कुछ देर बाद लेखपाल वहां से चले गये। फरीद अपने घर लौट आए।

गाड़ी में असलहों से लैस होकर पहुंचे हमलावर

फरीद के मुताबिक वह अपने घर के अंदर थे, कुछ देर बाद ही थार गाड़ी से लल्लन, फराज, ड्राइवर और एक अन्य लोग वहां पहुंचे। ये लोग उनके घर के अंदर आ गये। लल्लन ने राइफल तानते हुए अपशब्द कहना शुरू कर दिया। फरीद के चचेरे बड़े भाई मुनीर अहमद उर्फ ताज ने विरोध किया और राइफल की नाल नीचे करने लगे। इससे नाराज होकर लल्लन और फराज ने लाइसेंसी राइफल और रिवाल्वर से फायरिंग कर दी। लल्लन के असलहे से चली गोली मुनीर के गर्दन पर लगी। वह खून से लथपथ होकर जमीन पर गिर पड़े। फराज के असलहे से चली गोली फरहीन के सीने और बेटे हंजला की गर्दन पर जा लगी। दोनों की मौके पर मौत हो गई। मुनीर को सीएचसी ले जाया गया, जहां उन्हें डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें