ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशदो-दो हजार देकर पेंट्रीकार में यात्रा, फिर ट्रेन से उतारकर जुर्माना, 23 यात्रियों भारी पड़ी किसी तरह घर पहुंचने की चाह

दो-दो हजार देकर पेंट्रीकार में यात्रा, फिर ट्रेन से उतारकर जुर्माना, 23 यात्रियों भारी पड़ी किसी तरह घर पहुंचने की चाह

ट्रेनों में बिना टिकट यात्रा करने वालों की धरपकड़ के दौरान हैरान करने वाला मामला सामने आया है। दिल्ली से मुजफ्फरनगर जा रही संपर्कक्रांति एक्सप्रेस के पेंट्रीकार में बिना टिकट यात्री भरे मिले।

दो-दो हजार देकर पेंट्रीकार में यात्रा, फिर ट्रेन से उतारकर जुर्माना, 23 यात्रियों भारी पड़ी किसी तरह घर पहुंचने की चाह
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,मुरादाबादSun, 16 Jun 2024 03:27 PM
ऐप पर पढ़ें

ट्रेनों में बिना टिकट यात्रा करने वालों की धरपकड़ के दौरान हैरान करने वाला मामला सामने आया है। शनिवार को बेटिकट यात्रियों की चेकिंग के दौरान दिल्ली से बिहार के मुजफ्फरपुर जा रही सप्तक्रांति एक्सप्रेस (12558) के पेंट्रीकार से 23 यात्रियों को बिना टिकट पकड़ा गया। इन लोगों ने भले ही टिकट नहीं लिया था लेकिन पेंट्रीकार में में बैठने के ऐवज में मैनेजर को सभी ने दो-दो हजार रुपए दिए थे। ट्रेन फुल होने के कारण यह लोग किसी तरह अपने घर पहुंचना चाहते थे। लेकिन टिकट चेकिंग स्टाफ के पहुंचने से चाहत धराशाई हो गई। सभी को ट्रेन से उतारकर जुर्मान वसूला गया। 

मुरादाबाद जंक्शन पर शनिवार को डीसीएम सिद्धार्थ वर्मा के आदेश पर सीएमआई गजनफर उल्ला खां, सुशील सिन्हा, आरपीएफ इंस्पेक्टर अखिल कुमार ने चेकिंग अभियान शुरू किया था। इसी दौरान पता चला कि आनंद विहार से मुजफ्फरपुर जा रही सप्तक्रांति एक्सप्रेस के पेंट्रीकार में कई यात्रियों को बैठकर यात्रा कराई जा रही है।  चेकिंग स्टाफ पेंट्रीकार में पहुंचा तो वहां का नजारा देखकर हैरान रह गया। पेंट्रीकार में एक दो नहीं 23 लोगों को बैठाया गया था। सभी से दो-दो हजार रुपए भी लिए गए थे।

चेकिंग टीम को देखते ही पेंट्रीकार का मैनेजर मौके से भाग निकला। सभी यात्रियों को ट्रेन से उतारकर थाने लाया गया। वहां सभी ने किराये का भुगतान कर दिया। सभी 23 यात्रियों से 21 हजार रुपये वसूले गए। इतने बड़े पैमाने पर पेंट्रीकार में यात्रियों को बिना टिकट यात्रा की खबर से अधिकारियों ने मैनेजर और ठेकेदार फर्म पर भी कार्रवाई की तैयारी कर ली है। माना जा रहा है कि जल्द ही कई लोगों पर गाज गिर सकती है।

माना जा रहा है कि लंबे समय से इस तरह से रेलवे को चूना लगाकर पैंट्रीकार वाले यात्रियों से वसूली कर यात्रा करा रहे थे। जहां से जनरल का भी किराया करीब एक हजार है वहां के लिए दो-दो हजार रुपए वसूले गए थे। जबकि अन्य डिब्बों की तुलना में पेंट्रीकार में ज्यादा गर्मी भी रहती है। इसके बाद भी लोग घर जल्द से जल्द पहुंचने के लिए इस तरह का रिस्क ले रहे हैं।