ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी में अधिकारियों के तबादले शुरू, कई आईएएस बदले, एसपी गोयल व देवेश चतुर्वेदी जाएंगे केंद्र

यूपी में अधिकारियों के तबादले शुरू, कई आईएएस बदले, एसपी गोयल व देवेश चतुर्वेदी जाएंगे केंद्र

लोकसभा चुनाव खत्म होने के साथ ही यूपी में अधिकारियों के तबादले शुरू हो गए हैं। दो वरिष्ठ अधिकारियों मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव एसपी गोयल और अपर मुख्य सचिव नियुक्त एवं कार्मिक जल्द केंद्र जाएंगे।

यूपी में अधिकारियों के तबादले शुरू, कई आईएएस बदले, एसपी गोयल व देवेश चतुर्वेदी जाएंगे केंद्र
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान,लखनऊWed, 12 Jun 2024 10:18 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रदेश सरकार के दो वरिष्ठ अधिकारियों मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव एसपी गोयल और अपर मुख्य सचिव नियुक्त एवं कार्मिक जल्द ही केंद्र में प्रतिनियुक्त पर जाएंगे। उनको केंद्र में तैनाती के लिए राज्य सरकार ने अनापत्ति प्रमाण पत्र केंद्र सरकार को भेज दिया है। वहीं राज्य सरकार ने बुधवार को तीन आईएएस अधिकारियों का तबादला कर दिया है। आबकारी आयुक्त आदेश सिंह को आयुक्त राज्य कर का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है। आयुक्त राज्यकर मिनिस्ती एस. दो माह की छुट्टी पर गई हैं। धनंजय शुक्ला को विशेष सचिव नियुक्ति से अपर आयुक्त राज्य कर बनाया गया है। यह पद काफी समय से खाली चल रहा था।

वहीं विशेष सचिव खनन विजय कुमार को विशेष सचिव नियुक्ति के पद पर स्थाई तैनाती दी गई है। उनके पास अभी विशेष सचिव नियुक्ति का अतिरिक्त प्रभार था। अध्ययन अवकाश से लौटने के बाद डा. मन्नान अख्तर को विशेष सचिव खनन बनाया गया है। मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव एसपी गोयल और अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक डा. देवेश चतुर्वेदी के केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर जाने के लिए राज्य सरकार की ओर से एनओसी भेज दी गई है। केंद्र में तैनाती मिलने के बाद जल्द ही दोनों आईएएस अधिकारियों को कार्यमुक्त कर दिया जाएगा। 

जल्द होंगे बड़े बदलाव
इसी के साथ यूपी की ब्यूरोक्रेसी में जल्द ही बड़ा बदलाव होने वाला है। डा. देवेश चतुर्वेदी के पास नियुक्ति एवं कार्मिक के साथ कृषि विभाग भी है। मई में दो आईएएस अधिकारियों के सेवानिवृत्त होने के बाद ऊर्जा और खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग का अतिरिक्त प्रभार देकर काम चलाया जा रहा है। इसके चलते इन पदों पर भी स्थाई तैनाती होगी। आने वाले समय में पंचम तल से लेकर शासन स्तर के कई अधिकारियों को इधर से उधर किया जाना तय माना जा रहा है। इसके अलावा एक दर्जन से अधिक जिलों के डीएम को भी हटाए जाने की चर्चाएं हैं।

Advertisement