ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशनहीं खुला ट्रेन का गेट, शादी का कार्ड दिखाकर मिन्नतें करते रहे दूल्हा और बाराती, छूटी ट्रेन

नहीं खुला ट्रेन का गेट, शादी का कार्ड दिखाकर मिन्नतें करते रहे दूल्हा और बाराती, छूटी ट्रेन

बरेली जंक्शन के प्लेटफार्म पर ट्रेन का गेट नहीं खुला। यात्री कोच के गेट पीटते रहे। दूल्हा और बाराती शादी का कार्ड दिखाकर मिन्नतें करते रहे। अंदर से यात्रियों ने दरवाजा नहीं खोला।

नहीं खुला ट्रेन का गेट, शादी का कार्ड दिखाकर मिन्नतें करते रहे दूल्हा और बाराती, छूटी ट्रेन
Deep Pandeyहिन्दुस्तान,बरेलीFri, 08 Dec 2023 02:02 PM
ऐप पर पढ़ें

अवध असम एक्सप्रेस (15910) के कई यात्री बरेली जंक्शन के प्लेटफार्म पर ही रह गए। जिसमें एक दूल्हा भी था। यात्री कोच के गेट पीटते रहे। दूल्हा और बाराती शादी का कार्ड दिखाकर मिन्नतें करते रहे। अंदर से यात्रियों ने दरवाजा नहीं खोला। ट्रेन जाने के बाद गुस्साए यात्रियों ने हंगामा कर दिया। यात्री स्टेशन मास्टर के ऑफिस पहुंच गए। कुछ यात्रियों ने एक्स पर रेलवे को टैग करते हुए पोस्ट कर शिकायत भी की। बदायूं के रहने वाले लव कुमार और उसके परिवार के 10-15 लोगों को असम के रंगिया जाना था। नौ दिसंबर को वहां लव कुमार की शादी है। उनका आरक्षण लालगढ़ से डिबरुगढ़ जाने वाली अवध असम एक्सप्रेस में था। समय से पहले लव कुमार परिवार और रिश्तेदारों के साथ जंक्शन पहुंच गए। यहां कई युवक-युवतियां भी थे, जो परीक्षा देने बिहार जा रहे थे। प्लेटफार्म नंबर एक पर करीब 30-35 यात्री असम एक्सप्रेस पर चढ़ने के लिए खड़े थे। कुछ के वेटिंग टिकट थे।

दोपहर करीब 1223 बजे ट्रेन बरेली जंक्शन पहुंची। यात्रियों ने स्लीपर कोच अंदर से बंद कर लिये थे। यात्री प्लेटफार्म एक पर इधर-उधर कोच में चढ़ने को दौड़ रहे थे। यात्री अंदर से गेट खोलने को राजी नहीं थे। तीन मिनट के ठहराव के बाद ट्रेन रवाना हो गई। लव कुमार और अन्य यात्री गेट पीटते रहे, अंदर बैठे यात्रियों से गेट खोलने के लिए मिन्नतें करते रहे लेकिन किसी ने नहीं सुना। ट्रेन प्लेटफार्म से निकल गई। परेशान यात्रियों ने हंगामा शुरू कर दिया।

स्टेशन मास्टर की बात सुनकर भड़के यात्री

अवध असम एक्सप्रेस छूट जाने के बाद आक्रोशित यात्री स्टेशन मास्टर के ऑफिस में पहुंच गए। यात्रियों के अनुसार वहां कहा गया कि अवध असम एक्सप्रेस शाहजहांपुर और रोजा में काफी देर रुकेगी और लखनऊ में भी रि-शिड्यूल होगी। ऐसे में पीछे से जो ट्रेन आ रही है उसमें सवार होकर चले जाएं। आगे जाकर लखनऊ तक अवध असम एक्सप्रेस को पकड़ लें। यह सुनकर परेशान यात्रियों का पारा चढ़ गया। उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया। कहीं सुनवाई न होने पर लाचार यात्री अन्य विकल्पों की तलाश में जुट गए। वहीं कुछ यात्री वापस लौट गए।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें