DA Image
15 अगस्त, 2020|9:31|IST

अगली स्टोरी

टीचर और ऑटो ड्राइवर की लव स्‍टोरी का खौफनाक अंत: गला रेतकर पत्‍नी को मौत के घाट उतारा, छह दिन बाद थाने में किया सरेंडर 

शिक्षिका और ऑटो ड्राइवर की लव स्‍टोरी का ऐसा खौफनाक अंत होगा, किसी ने सोचा नहीं था। शादी के चार महीने में ही पति अपनी पत्‍नी से इस कदर उब गया कि उसे रास्ते से हटाने की साजिश रच डाली। अपनी मां और बहन को दूसरे गांव भेजा और अगले दिन चाकू से पत्‍नी का गला रेत डाला। लाश ठिकाने लगाने के छह दिन बाद अपराध बोध से परेशान होकर थाने में सरेंडर कर दिया। 

दिल दहला देने वाली इस वारदात का खुलासा बुधवार को महराजगंज की कोल्‍हुई पुलिस ने किया। इस वारदात का एक हैरतंगेज पहलू यह भी है कि बेटे के वार से घायल बहू को तड़पता देख श्‍वसुर ने उसका गला दबा दिया। वह बहू का गला तब तक दबाए रहा जब तक उसकी मौत नहीं हो गई। पत्‍नी को मौत के घाट उतारने के बाद पति ने पिता के साथ मिलकर लाश को बोरे भरा, पत्थर की चाकी बांधी और रात के 11 बजे सिद्धार्थनगर के जोगिया उदयपुर क्षेत्र के खजूरडाड़ गांव के पुल से नदी में फेंक दिया। इसके बाद छह दिन तक अपराध बोध में इधर-उधर भटकता रहा। 27 जून को जोगिया थाना पहुंच पूरे वाकये की जानकारी देते हुए कहा कि उसे गिरफ्तार कर लिया जाए। प्रेमी ने अपने कबूलनामे में पिता की भूमिका भी बयां कर दी। बुधवार को कोल्हुई पुलिस ने आरोपित पति उसके पिता को जेल भेज दिया।

प्‍यार में शिक्षिका ने छोड़ दिया था घर 
महराजगंज के कोल्हुई क्षेत्र के एक प्राइवेट स्कूल की शिक्षिका ने ऑटो ड्राइवर की मोहब्‍बत में इस साल 29 फरवरी को अपना घर छोड़ दिया। उस वक्‍त उसके घरवालों ने उसे काफी खोजा। नहीं मिली तो  कोल्हुई थाने में गुमशुदगी का केस दर्ज करा दिया। इसके बाद सीधे 27 जून को सिद्धार्थनगर के जोगिया उदयपुर थाने से शिक्षिका का सुराग मिला। जोगिया उदयपुर थाने से कोल्हुई के एसओ के पास फोन आया कि फरवरी में जो युवती कोल्हुई क्षेत्र से गायब हुई थी, उसकी हत्या का जुर्म एक युवक कबूल रहा है। बता रहा है कि शव को राप्ती नदी में फेंक दिया है।

28 जून से 30 जून तक कोल्हुई पुलिस ने सिद्धार्थनगर के जोगिया और उस्का पुलिस की मदद से राप्ती नदी से शव को बरामद करने की कोशिश की, लेकिन शव बरामद नहीं हुआ। युवती की हत्या की बात कबूलने वाले शिवांश मिश्र और उसके पिता जयशंकर मिश्र सिद्धार्थनगर के जोगिया उदयपुर थाना क्षेत्र के टड़िया गांव के रहने वाले हैं। कोल्हुई थाना में पहले से दर्ज गुमशुदगी के केस में हत्या और साक्ष्य छिपाने की धारा बढ़ा कर बुधवार को पुलिस ने हत्यारोपित शिवांश मिश्र और उसके पिता जयशंकर मिश्र को जेल भेज दिया। 

स्‍कूल लाने-ले जाने के दौरान हो गया प्‍यार 
पूछताछ में हत्‍यारोपी शिवांश मिश्रा ने बताया कि स्कूल लाने और ले जाने के दौरान कोल्हुई क्षेत्र की प्राइवेट स्कूल की शिक्षिका से प्यार हुआ था। फिर  भागकर शादी कर ली। लेकिन शादी के कुछ दिनों बाद दोनों के बीच झगड़ा होने लगा। आरोपित ने कहा कि उसकी मां और बहन के साथ पत्‍नी का व्‍यवहार अच्‍छा नहीं था। 

शिक्षिका का शव अभी बरामद नहीं हो पाया है। पुलिस इसके लिए पूरा प्रयास कर रही है।
राम सहाय चौहान, एसओ कोल्हुई

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:tragic end of teacher and auto driver love story husband killed wife surrendered in police station