ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशआंखों में सूजा घुसा रहे थे, बेल्ट से भी पीटा...पुलिस की प्रताड़ना से तंग आकर युवक ने की आत्महत्या, मरने से पहले बयां किया दर्द

आंखों में सूजा घुसा रहे थे, बेल्ट से भी पीटा...पुलिस की प्रताड़ना से तंग आकर युवक ने की आत्महत्या, मरने से पहले बयां किया दर्द

फतेहपुर पुलिस ने एक युवक को इतना थर्ड डिग्री टॉर्चर किया कि उसने आत्महत्या ही कर ली। हालांकि मरने से पहले युवक ने वीडियो बनाकर पुलिस की बर्बरता बयां की।

आंखों में सूजा घुसा रहे थे, बेल्ट से भी पीटा...पुलिस की प्रताड़ना से तंग आकर युवक ने की आत्महत्या, मरने से पहले बयां किया दर्द
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,फतेहपुरTue, 30 Jan 2024 03:43 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के फतेहपुर में पुलिस की थर्ड डिग्री टॉर्चर से तंग आकर युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सुसाइड करने से पहले उसने वीडियो बनाकर पुलिस दर्द बयां किया। जिसके बाद वीडियो लेकर परिजन एसपी के पास पहुंचे। दूसरी ओर एएसपी इस घटना की जांच में जुट गए। हालांकि सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो की पुष्टि लाइव हिन्दुस्तान नहीं करता है। 

ये घटना हुसैनगंज के मानपुर का है। अनोखे लाल के 20 साल के बेटे रामरूप को थरियांव पुलिस शनिवार सुबह घर से उठा ले गई थी। पुलिस के अनुसार उससे सेमरा गांव में 15 नवंबर को किसान रामरतन की हत्या के मामले में पूछताछ होनी थी। आरोप है कि पुलिस ने हत्या कबूल करवाने के लिए उसे थर्ड डिग्री टॉर्चर किया। शनिवार देर शाम पुलिस ने ये कहते हुए छोड़ दिया कि उसे अगले दिन भी थाने आना होगा। इसके बाद रविवार सुबह रामरूप ने गांव के बाहर पेड़ पर लटककर आत्महत्या कर ली।  छोटे भाई श्याम सिंह ने बताया कि अंतिम संस्कार के बाद भाई के मोबाइल पर एक वीडियो मिला जिसे देखने के बाद पुलिसकर्मियों की हरकतों का पता चला। भाई के मुताबिक वीडियो में रामरूप साफ तौर पर कहता सुनाई पड़ रहा है कि पुलिस प्रताड़ना के कारण ही वह फांसी लागकर आत्महत्या कर रहा है।

आंखों में घुसा रहे थे सूजा

रामरतन हत्याकांड खुलासे में नाकाम रही पुलिस पूछताछ के नाम पर लोगों को थाने लाकर प्रताड़ित कर रही है। चर्चा है कि फर्जी केस में फंसा देने की धमकी देकर सारे हथकंडे अपनाए। पुलिस की दहशत से कई गांव छोड़ गए तो वहीं एक युवक ने दुनिया को ही अलविदा कह दिया। मरने से पहले युवक ने वीडियो बनाकर पुलिस बर्बरता की दास्तां बयां की। जिसमें वह कह रहा है कि पुलिस उसे थाने ले गई, गाली गलौच की, आंख में सूजा घुसा रहे थे। जान से मारने की धमकी भी दी। रुपये की मांग कर रहे थे, न देने पर जेल में बंद करने की बात कह रहे थे। बहुत डरा हुआ हूं इसलिए फांसी लगा जान देने जा रहा हूं।

पुलिस भर्ती की कर रहा था तैयारी

एसपी आफिस पहुंचे मृतक के पिता ने रोते हुए बताया कि उनका बेटा महज 20 साल का था, पुलिस भर्ती की तैयारी कर रहा था। पह कहा करता था कि पुलिस में भर्ती होकर जनता की सेवा करेगा लेकिन क्या पता था कि जिस विभाग में नौकरी करने के सपने देख रहा है, उसी विभाग की क्रूरता उसके मौत का कारण बन जाएगी। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें