DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  कानपुर हादसे में 18 की जान लेने वाली बस के मालिक समेत तीन गिरफ्तार
उत्तर प्रदेश

कानपुर हादसे में 18 की जान लेने वाली बस के मालिक समेत तीन गिरफ्तार

कानपुर। संवाददाताPublished By: Yogesh Yadav
Mon, 14 Jun 2021 07:46 PM
कानपुर हादसे में 18 की जान लेने वाली बस के मालिक समेत तीन गिरफ्तार

कानपुर में 8 जून को सचेंडी में बस और टेम्पो की भिड़ंत में 18 लोगों की मौत हो गई थी। इस मामले में सचेंडी पुलिस शुरुआत से ही लापरवाह रही। घायलों को अस्पताल पहुंचाने तक तो पुलिस ने सही काम किया। मगर उसके बाद जब बारी चालक और मालिक की गिरफ्तारी की आई तो पुलिस ढीली पड़ गई। आरोपितों को पुलिस ने शनिवार को उठा लिया। वरिष्ठ अधिकारियों को जानकारी भी दे दी। तब भी गिरफ्तारी दिखाते दिखाते पुलिस को 48 घंटे का समय लग ही गया। 

8 जून को किसान नगर स्थित बिस्कुट फैक्ट्री में काम करने जा रहे टेंपो सवार 21 मजदूरों को अहमदाबाद जा रही टूरिस्ट बस ने टक्कर मार दी थी। हादसे में सचेंडी के लाल्लेपुर गांव के 14 और ईश्वरीगंज के 4 मजदूरों समेत 18 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। मामले में पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ गैर इरादातन हत्या की धाराओं में एफआईआर दर्ज की। जांच में मध्य प्रदेश के शिवपुरी सर्वोदय नगर निवासी बस मालिक दीपक भार्गव उर्फ बाबा, ग्वालियर चंदन नगर निवासी चालक देवेंद्र उर्फ अरविंद सिंह व गुना विकास नगर के कंडक्टर बृजभूषण शर्मा का नाम सामने आया। इनकी गिरफ्तारी के प्रयास जारी थे। 

72 घंटे से पहले गिरफ्तारी के थे निर्देश 
पुलिस जांच में यह तथ्य भी सामने आया कि चालक ने सफर से पहले शराब पी थी। आरटीओ कर्मियों ने बस को चेक भी किया था मगर उसे जाने दिया। एडीजी भानु भाष्कर द्वारा लगातार कानपुर आउटर के अधिकारियों को निर्देश दिए जा रहे थे कि चालक की गिरफ्तारी 72 घंटे में करा ली जाए। ताकि उसके शरीर से एल्कोहल के ट्रेसेस टेस्ट में मिल जाएं। इस बीच बस मालिक दीपक भार्गव ने पुलिस से सम्पर्क किया और शनिवार को शहर आ पहुंचा।

पुलिस उससे पूछताछ के लिए दूसरे स्थान पर ले गई। उसी दिन पुलिस ने ट्रक चालक को भी पकड़ लिया और एडीजी को इसकी जानकारी भी दे दी। मगर लिखापढ़ी में गिरफ्तारी नहीं खोली। सोमवार को पुलिस ने तीनों की गिरफ्तारी भौंती बाईपास के पास से दिखाई। सचेंडी एसओ सतीश सिंह राठौर ने बताया कि रविवार देर सभी तीनों आरोपितों को भौंती ओवरब्रिज के पास से गिरफ्तार कर लिया गया। तीनों को सोमवार दोपहर कोर्ट में पेश किया गया।

संबंधित खबरें