DA Image
24 अक्तूबर, 2020|6:43|IST

अगली स्टोरी

भारत-नेपाल रिश्तों की मिसाल है PM नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र का यह मंदिर

this temple in pm narendra modi parliamentary constituency is an example of india nepal relationship

नेपाल और भारत के बीच सीमाओं को लेकर तनातनी चल रही है। दोस्ती अब दुश्मनी में तब्दील हो रही है। लेकिन नेपाल और भारत की दोस्ती कितनी मजबूत है इसका उदाहरण है पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में स्थित नेपाली मन्दिर। जहाँ आज भी मोक्ष प्राप्ति के लिए नेपाली महिलाएं और पुरुष अपनी मृत्यु के लिए आते हैं।

सदियों पुराने इस मंदिर को नेपाल सरकार ने 1943 में पशुपतिनाथ मंदिर का नाम दिया था। ताकि बनारस में रहने वाले नेपाली नागरिकों को बाबा विश्वनाथ के साथ ही पशुपति नाथ के भी दर्शन प्राप्त हो सकें। मंदिर और धर्मशाला के लिए बाकायदा पुजारी से लेकर कर्मचारी नियुक्त हैं जो सभी नेपाली नागरिक ही हैं। 

वाराणसी के गंगा घाट किनारे स्थापित ये नेपाली मंदिर पशुपतिनाथ मंदिर के नाम से जाना जाता है। जिसकी देखरेख नेपाल सरकार ही करती है। इस मंदिर का जीर्णोद्धार 1943 में नेपाल सरकार ने कराया था। ताकि उनके नागरिक यहां आकर इस मंदिर के धर्मशाला में मोक्ष प्राप्ति के लिए काशी वास कर सकें। नेपाल और भारत के तनाव के बीच आज भी इस मंदिर में 13 वृद्ध माताएं अपने मौत का इंतजार कर रही हैं। 

मंदिर के पास में ही धर्मशाला बनी हुई है जो कि पूरी तरह से नेपाल संस्कृति की झलक है। धर्मशाला में बनी लकड़ी की बालकनी और खिड़कियां देखकर ऐसा लगता है कि जैसे बनारस में नेपाल बस गया हो। यहां रह रहीं महिलाओं की दिनचर्या पूजा पाठ के साथ शुरू होती है और अन्य कामों के साथ बीत जाती है। इंतजार सिर्फ इस बात का है की उनके प्राण इस पवित्र धरती पर ही निकले। क्योंकि उनका मानना है कि काशी के धरती से मोक्ष की प्राप्ति होती है और यही कारण है कि वो यहाँ सिर्फ और सिर्फ अपनी मृत्यु का इंतजार करती हैं।

मंदिर के मुख्य पुजारी का कहना है कि नेपाल के नागरिकों के लिए काशी मुख्य धर्म स्थल है। नेपाली धर्म ग्रंथों में भी काशी को मुक्ति स्थल बताया गया है यही कारण है कि सालों से यहाँ ये महिलाएं अपनी मौत का इंतजार कर रही हैं। वहीं भारत और नेपाल के बीच चल रहे तनाव के लेकर पुजारी का कहना था कि की हमारा सम्बन्ध मजबूत है। ये सारे तनाव एक टेबल पर खत्म हो जाएंगे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:This temple in PM Narendra Modi parliamentary constituency is an example of India Nepal relationship