ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी में बिजली चोरी करने वालों की खैर नहीं, चलेगा अभियान, पावर कारपोरेशन ने दिया यह आदेश

यूपी में बिजली चोरी करने वालों की खैर नहीं, चलेगा अभियान, पावर कारपोरेशन ने दिया यह आदेश

यूपी में बिजली की भारी मांग ने रिकॉर्ड तोड़ दिया है। इस देखते हुए पावर कारपोरेशन के अध्यक्ष ने अधिकारियों को बिजली व्यवस्था को बेहतर करने के लिए बिजली चोरी के खिलाफ अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं।

यूपी में बिजली चोरी करने वालों की खैर नहीं, चलेगा अभियान, पावर कारपोरेशन ने दिया यह आदेश
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊWed, 12 Jun 2024 05:30 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी में प्रचंड गर्मी और लू के बीच मंगलवार रात प्रदेश के इतिहास में बिजली की मांग सर्वाधिक 29 हजार 820 मेगावाट पहुंच गई। जबकि वद्यिुत खपत भी लगभग 643 मिलियन यूनिट तक पहुंच गई है।  उत्तर प्रदेश कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष डॉ. आशीष कुमार गोयल ने अधिकारियों को बिजली व्यवस्था को बेहतर करने के लिए बिजली चोरी के खिलाफ अभियान चलाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने प्रदेश के सभी वितरण निगमों के प्रबंध निदेशकों एवं मुख्य अभियंताओं को निर्देशित किया है कि ऐसे फीडर जहां लाइन हानियां सबसे ज्यादा हैं वहां अभियान चलाकर विद्युत चोरी रोकी जाए। इसमें विजिलेंस की भी मदद ली जाए। किसी को नाजायज परेशान न किया जाए। 

उन्होंने कहा कि बेहतर बिजली आपूर्ति और व्यवस्था के लिए यह जरूरी है कि बिजली चोरी पर प्रभावी रोक लगे। ऐसे फीडर चिह्नित किए जाएं जहां सर्वाधिक बिजली चोरी की संभावना है। सबसे पहले वहीं अभियान चलाया जाए। पिछली 31 मई को  मांग 29 हजार 727 मेगावाट पहुंच गई थी, जिसे पावर कारपोरेशन ने पूरा करके एक नया रिकॉर्ड स्थापित किया था। 2023 में 24 जुलाई को अधिकतम मांग 28 हजार 284 मेगावाट तक पहुंच गई थी, जो रिकार्ड था। हालांकि 2024 में 22 मई को ही यह रिकॉर्ड टूट गया, जब मांग 28,336 मेगावाट तक पहुंच गई थी। अब एक महीने में तीसरी बार रिकॉर्ड टूटा है।

उत्तर प्रदेश कॉर्पोरेशन के अध्यक्ष डॉ. आशीष कुमार गोयल ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि लगातार पड़ रही भयंकर गर्मी एवं बिजली की मांग में हो रही बढ़ोत्तरी को देखते हुए सावधानी बरतें। सभी कार्मिक इस चुनौती पूर्ण समय में पूरी लगन और मेहनत के साथ अपने उत्तरदायत्विों का निवर्हन करें। उन्होंने कहा कि लगातार बढ़ रही बिजली की मांग के अनुरूप बिजली की व्यवस्था की जा रही है। 

पावर कॉर्पोरेशन ने पूर्वानुमान के अनुरूप बिजली की उपलब्धता की पर्याप्त व्यवस्था कर रखी है और मांग बढ़ने पर अतिरक्ति अरेंजमेंट भी समय पर किया जा रहा है। अध्यक्ष ने बताया है कि सिस्टम की कैपेसिटी के कारण कही भी रोस्टिंग नहीं हो रही है। लोकल फाल्ट के कारण बिजली आपूर्ति बाधित होने की सूचनाएं आती है। इस संदर्भ में भी कड़े निर्देश दिए गए हैं कि जहां कहीं भी लोकल फाल्ट हो उसे कम से कम समय में ठीक कर आपूर्ति बहाल की जाए।

अध्यक्ष ने प्रयागराज क्षेत्र की विद्युत व्यवस्था की समीक्षा में प्रयागराज (प्रथम) एवं फतेहपुर के अधीक्षण अभियंताओं को चार्जशीट देने के निर्देश दिए। इनके क्षेत्र में राजस्व, ट्रांसफार्मर क्षतग्रिस्तता, असस्टिेड बिलिंग, आरडीएसएस तथा बिजनेस प्लान आदि योजनाओं की प्रगति संतोषजनक नहीं थीं। अधिशाषी अभियंता कौशाम्बी तथा खागा को भी सख्त चेतावनी दी गई।