ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशलखनऊ आने पर नहीं झेलना होगा जाम, तीनों हाईवे पर सीएम योगी की सख्ती का दिखने लगा असर

लखनऊ आने पर नहीं झेलना होगा जाम, तीनों हाईवे पर सीएम योगी की सख्ती का दिखने लगा असर

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सख्त निर्देशों के बाद राजधानी लखनऊ को जोड़ने वाले तीनों राष्ट्रीय राजमार्गों पर ट्रैफिक व्यवस्था सुगम बनाने के उपायों पर अमल शुरू हो गया है। जाम का झाम नहीं झेलना होगा।

लखनऊ आने पर नहीं झेलना होगा जाम, तीनों हाईवे पर सीएम योगी की सख्ती का दिखने लगा असर
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान,लखनऊMon, 08 Aug 2022 08:41 PM
ऐप पर पढ़ें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सख्त निर्देशों के बाद राजधानी लखनऊ को जोड़ने वाले तीनों राष्ट्रीय राजमार्गों पर ट्रैफिक व्यवस्था सुगम बनाने के उपायों पर अमल शुरू हो गया है। लखनऊ-कानपुर राजमार्ग पर दो बड़ी क्रेन की व्यवस्था कर दी गई है तो शहीद पथ पर वाहनों को गति सीमा निर्धारित की गई है। एडीजी ट्रैफिक को सेंसर तकनीक के माध्यम से नियमों का पालन कराने की व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए गए हैं। 

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी की अध्यक्षता में सोमवार को लोक भवन स्थित कमाण्ड सेंटर में आयोजित उच्च स्तरीय बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें कार्यवाहक डीजीपी डॉ. डीएस चौहान भी उपस्थित रहे। बैठक में लखनऊ से कानपुर, लखनऊ से बाराबंकी एवं लखनऊ से सीतापुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर यातायात के सुचारू संचालन, समुचित प्रकाश एवं सफाई व्यवस्था के लिए विभिन्न बिन्दुओं पर पूर्व में लिए गए निर्णयों के क्रम में अब तक हुई प्रगति की गहन समीक्षा की गई। 

विशेष दस्ते करेंगे निगरानी

अपर मुख्य सचिव गृह ने निर्देश दिए कि लखनऊ में परिवहन निगम के सभी बस स्टैंड के बाहर बसों को खड़ा होने से रोकने के लिए संबंधित विभाग द्वारा विशेष दस्ते तैनात किए जाएं, जिनके द्वारा नियमों का उल्लंघन पाए जाने पर संबंधित के विरुद्ध कार्रवाई की जाए।

उन्होंने कहा कि लखनऊ-कानपुर राजमार्ग पर दो बड़ी क्रेन की व्यवस्था कर दी गई है ताकि तकनीकी रूप से खराब हुए वाहनों व दुर्घटनाग्रस्त वाहनों को अन्यत्र स्थल तक शीघ्र पहुंचाया जा सके। उन्होंने तीनों राजमार्गों पर अवैध अतिक्रमण के संबंध में चिह्नित स्थलों और उन्हें हटाए जाने से संबंधित की गई कार्रवाई जिला व पुलिस प्रशासन के बीच साझा करने के निर्देश दिए। साथ ही कहा कि अतिक्रमण हटाने के लिए नोटिस के साथ-साथ संबंधित पक्षों के साथ बैठक कर परस्पर संवाद का अवश्य प्रयास किया जाए। 
 
कमता चौराहे से मटियारी तक लगी स्ट्रीट लाइट 

बैठक में राष्ट्रीय राजमार्गो पर पर्याप्त मात्रा में संकेतक एवं चिह्नकों के बोर्ड व स्टीकर शीघ्र लगवाए जाने के निर्देश दिए गए, ताकि दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाया जा सके। शहीद पथ पर भी वाहनों की गति सीमा व उसके उल्लंघन पर होने वाली कार्रवाई की जानकारी से संबंधित बोर्ड लगवाए जाने के निर्देश दिए गए।

मार्ग प्रकाश एवं सफाई व्यवस्था को भी और अधिक बेहतर किए जाने तथा प्रभावी पेट्रोलिंग के लिए उठाए गए कदमों की भी जानकारी बैठक में दी गई। यह भी बताया गया कि बाराबंकी रोड पर कमता चौराहे से मटियारी तक स्ट्रीट लाइट लगवा दी गई है, जिसके लिए शीघ्र विद्युत कनेक्शन उपलब्ध कराए जाने के निर्देश ऊर्जा विभाग के अधिकारियों को दिए गए हैं। 

अपर मुख्य सचिव गृह ने एम. परिवहन एप को और अधिक प्रभावी बनाए जाने के लिए आवश्यक पत्राचार करने के निर्देश दिए, ताकि अधिकाधिक वाहन चालकों के अद्यतन मोबाइल नंबर परिवहन और पुलिस विभाग के अधिकारियों के पास रहे ताकि चालान आदि में सुगमता रहे। उन्होंने इसके लिए बीमा कंपनियों से भी समन्वय करने को कहा, ताकि कंपनियां बीमा करते समय संबंधित वाहन स्वामी का अद्यतन मोबाइल नंबर अवश्य दर्ज कराएं। 

तय होंगे वाहनों के रुकने के स्थान 

बैठक में अवैध टेम्पो स्टैंड हटाए जाने के विरुद्ध अब तक की गई कार्रवाई की भी समीक्षा की गई। कहा गया कि वाहनों के खड़े होने तथा उनके मार्ग में रुकने के स्थानों को निर्धारित कर उसकी सूची नगर विकास, पुलिस व जिला प्रशासन के पास उपलब्ध कराने के भी निर्देश दिए गए ताकि आपसी समन्वय से इस संबंध में प्रभावी कार्रवाई की जा सके। बैठक में पार्किंग के लिए चिह्नित स्थलों से वाहनों की क्रमानुसार रवानगी की व्यवस्था निर्धारित किए जाने और इसके लिए जरूरी होने पर सोसाइटी बनाकर कार्रवाई किए जाने का सुझाव दिया गया। 

एडीजी ट्रैफिक को निर्देशित किया गया है कि वह आरएफआईडी (रेडियो फ्रिक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन) की तकनीक का सहारा लेकर सेंसर के माध्यम से यातायात नियमों का अनुपालन कराएं। अपर मुख्य सचिव गृह ने निर्देशित किया है कि ट्रकों एवं अन्य मालवाहक वाहनों के समुचित ठहराव के लिए भूमि लीज पर लेने या अधिग्रहण कर नियमानुसार हाल्टिंग एरिया शीघ्र विकसित करने का निर्देश दिया। बैठक में सचिव गृह बीडी पाल्सन, विशेष सचिव गृह राकेश कुमार मालपानी, एडीजी ट्रैफिक अनुपम कुलश्रेष्ठ, डीएम लखनऊ सूर्यपाल गंगवार के अलावा विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे। 

epaper