ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशकई लड़कियों का यौन उत्पीड़न कर मुंबई से भागा युवक यूपी से दबोचा गया, दो हफ्ते से पीछे पड़ी थी पुलिस

कई लड़कियों का यौन उत्पीड़न कर मुंबई से भागा युवक यूपी से दबोचा गया, दो हफ्ते से पीछे पड़ी थी पुलिस

मुंबई पुलिस ने यूपी के मिर्जापुर से एक ऐसे युवक को दबोचा है जो कई लड़कियों से छेड़छाड़ और यौन उत्पीड़न कर फरार था। इस युवक के खिलाफ दो हफ्ते पहले पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई गई थी।

कई लड़कियों का यौन उत्पीड़न कर मुंबई से भागा युवक यूपी से दबोचा गया, दो हफ्ते से पीछे पड़ी थी पुलिस
Yogesh Yadavहिन्दुस्तान टाइम्स,मिर्जापुरWed, 29 Nov 2023 11:43 PM
ऐप पर पढ़ें

मुंबई पुलिस ने यूपी के मिर्जापुर से एक ऐसे युवक को दबोचा है जो कई लड़कियों का यौन उत्पीड़न कर फरार था। इस युवक के खिलाफ दो हफ्ते पहले पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई गई थी। इसके बाद पुलिस ने सीसीटीवी की मदद से युवक की पहचान की तो पता चला कि उसने कई लड़कियों का इसी तरह यौन उत्पीड़न और छेड़छाड़ की है। इसके बाद यूपी एसटीएफ की मदद और मिर्जापुर जिले की क्राइम ब्रांच के साथ युवक को दबोच लिया गया। युवक की पहचान 23 वर्षीय विशाल  कन्नौजिया के रूप में हुई है। मीरा-भायंदर-वसई-विरार पुलिस की यूनिट 3 ने इस युवक की तलाश 14 दिनों से कर रही थी।

पुलिस के अनुसार विशाल कनौजिया के खिलाफ तुलिंज पुलिस में सबसे पहले छेड़छाड़ की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। पुलिस ने उसकी तलाश शुरू की और सीसीटीवी फुटेज जारी कर लोगों से पहचान करने को कहा। पुलिस के मुताबिक घटना 14 नवंबर की है। जब कन्नौजिया ने नालासोपारा पूर्व में एक छह साल की बच्ची का यौन उत्पीड़न किया। अपने घर के बाहर खेल रही बच्ची को वह फुसलाकर अपने साथ ले गया और उसका यौन उत्पीड़न किया। पुलिस ने जब युवक का सीसीटीवी फुटेज जारी किया तो आसपास के अन्य अभिभावकों ने भी कन्नौजिया के खिलाफ इसी तरह की शिकायतें कीं।

पुलिस अधिकारी के अनुसार फिलहाल उसके खिलाफ दो छेड़छाड़ के मामले दर्ज किए गए हैं। इन घटनाओं के कारण इलाके में माता-पिता के बीच डर का माहौल था। अधिकारियों ने बताया कि सीसीटीवी रिकॉर्डिंग जारी करने के बाद यूपी एसटीएफ के अधिकारियों ने क्राइम ब्रांच के अधिकारियों को सूचना दी।

उन्होंने कनौजिया को मिर्ज़ापुर में गिरफ्तार किया। आरोपी युवक के खिलाफ धारा 354 (छेड़छाड़) और यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण अधिनियम (POCSO) की धाराओं के तहत गिरफ्तार किया है। पुलिस अब आरोपी को अदालत में पेश कर रिमांड भी मांगेगी। पुलिस का मानना है कि इसके खिलाफ अब कई और केस दर्ज हो सकते हैं। इसके खिलाफ कुछ और लोग सामने आ सकते हैं। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें