DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  सोनभद्र की पहाड़ियों का जायजा लेने लखनऊ से पहुंची टीम

उत्तर प्रदेशसोनभद्र की पहाड़ियों का जायजा लेने लखनऊ से पहुंची टीम

प्रमुख संवाददाता,सोनभद्रPublished By: Alakha
Sat, 22 Feb 2020 08:59 PM
सोनभद्र की पहाड़ियों का जायजा लेने लखनऊ से पहुंची टीम

यूपी के सोनभद्र जिले में सोने का भंडार मिलने के बाद आला अधिकारियों  के जिले में आने का सिलसिला शुरू हो गया है। शनिवार को लखनऊ से जियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इण्डिया (जीएसआई) के चीफ इंजीनियर केके सिन्हा अपनी टीम के साथ जिले में पहुंचे। प्रया

खनिज विभाग के अनुसार तीन दिन के दौरे पर आए सिन्हा प्रदेश सरकार के निर्देश पर चोपन ब्लॉक के हरदी  के गोविंदी पहाड़ी, पनारी के  सोन पहाड़ी और भरहरी पहाड़ी का जायजा लेंगे। वन विभाग, राजस्व और खनिज विभाग की टीम के साथ खनिज संपदा वाले स्थानों का दौरा करेंगे। यह आंकलन करेंगे कि सोना निकालने के लिए वन और राजस्व की कितनी भूमि पर खनन किया जाएगा। खनन कार्य के लिए कितने ग्रामीणों का विस्थापन होगा। टीम यह भी जानने की कोशिश करेगी कि विस्थापित होने वालों की मांग क्या होगी।

टीम के आने की बाबत जब चीफ इंजीनियर केके सिन्हा से जानकारी चाही गई तो उन्होंने स्पष्ट कह दिया कि हम लोग अपना काम करने आए हैं। मीडिया को जो भी जानकारी चाहिए, वह जिले के खान अधिकारी से ले सकते हैं।

यूरेनियम की तलाश में पड़ोसी राज्य पहुंची टीम-

जिले में म्योरपुर ब्लाक के लीलासी-सांगोबांध मार्ग पर स्थित कुदरी पहाड़ी पर यूरेनियम होने की पुष्टि के बाद दिल्ली से आई केन्द्रीय परमाणु ऊर्जा विभाग की टीम अब पड़ोसी राज्य मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में यूरेनियम की तलाश में सर्वे करने के लिए निकल गई। सूत्रों ने बताया कि टीम में शामिल वैज्ञानिक सोनभद्र जिले से सटे मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के कुछ इलाकों में यूरेनियम की तलाश में सर्वे करेंगे। उधर, कुदरी पहाड़ी पर यूरेनिय के लिए खुदाई के लिए चिन्हांकन किया गया है। यहां पर खुदाई का कब से शुरू होगा, इस बाबत कोई जानकारी नहीं हो सकी है। कारण है कि टीम के सदस्यों ने मीडिया से काफी दूरी बना ली है। यहां तक कि म्योरपुर क्षेत्र में जहां उनकी रिहाईश है, वहां पर किसी भी मीडियाकर्मी को जाने की अनुमति नहीं है।

संबंधित खबरें