DA Image
27 दिसंबर, 2020|11:55|IST

अगली स्टोरी

अमेठी में एक दिन के लिए कोतवाल बनीं छात्रा स्वाति, पीड़ितों की सुनी फरियाद

शुक्रवार को अमेठी जिले के सभी थानों की कमान मिशन शक्ति अभियान के तहत बालिकाओं के हाथ में रही। एक दिन की कोतवाल बनी बालिकाओं ने कार्यालय में बैठकर समस्याएं भी सुनी और क्षेत्र भ्रमण कर चेकिंग अभियान भी चलाया।

मिशन शक्ति अभियान के तहत मुसाफिरखाना में एक दिन की कोतवाल बनी मंगलम महाविद्यालय की स्नातक कला वर्ग की छात्रा स्वाति तिवारी ने कार्यालय में बैठकर पीड़ितों की फरियाद सुनी। सिपाही नरेंद्र के अवकाश प्रार्थना पत्र को स्वीकृत किया। इसके बाद क्षेत्र भ्रमण कर एंटी रोमियो स्क्वाड की ड्यूटी देखी। बैंक चेकिंग के दौरान वहां तैनात महिला सिपाही ड्यूटी करती मिली। बैंक कर्मियों को मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के साथ ही बिना वजह बैंक में प्रवेश प्रतिबंधित करने का निर्देश दिया।

स्वाति तिवारी ने कहा कि एक दिन का कोतवाल बनने पर उन्हें पुलिस की कार्यशैली को नजदीक से देखने का जो मौका उन्हें दिया गया इसके लिए  वे अधिकारियों को धन्यवाद देती हैं। अन्य थाना क्षेत्रों में भी बालिकाओं ने थानेदारी के सभी कार्यों का निष्पादन करते हुए लोगों को कोरोना से बचाव के लिए मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग नियम का पालन करने की नसीहत दी।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Swati became a Kotwal for a day in Amethi listened to the victims