DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  पीलीभीत में मिला ब्लैक फंगस का संदिग्ध मरीज, जांच के बाद मरीज दिल्ली रेफर 

उत्तर प्रदेशपीलीभीत में मिला ब्लैक फंगस का संदिग्ध मरीज, जांच के बाद मरीज दिल्ली रेफर 

पीलीभीत। संवाददाताPublished By: Dinesh Rathour
Wed, 12 May 2021 11:19 PM
पीलीभीत में मिला ब्लैक फंगस का संदिग्ध मरीज, जांच के बाद मरीज दिल्ली रेफर 

कोरोना से जंग जीतकर आए एक व्यक्ति में ब्लैक फंगस के लक्षण मिले हैं। निजी चिकित्सक ने रोगी को सलाह दी है कि वह हायर सेंटर दिल्ली में जाकर चेकअप कराएं और समुचित इलाज कराएं। इस सूचना के बाद स्वास्थ्य विभाग ने अलर्ट जारी किया है। शहर के मोहल्ला साहूकारा के रहने वाले एक व्यक्ति (40) की 22 अप्रैल को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद उन्हें बरेली के एक कोविड अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था।

बेहतर उपचार के बाद वे वहां से ठीक होकर 27 अप्रैल को अपने घर आ गए। पर दस दिन बाद अचानक आंख में सूजन आ गई और लालिमा महसूस होने लगी। युवक ने शहर के एक प्रतिष्ठित निजी नेत्र चिकित्सक को आंख दिखाई। जांच में चिकित्सक को ब्लैक फंगस के लक्षण प्रतीत हुए। सीटी स्कैन के बाद युवक को दिल्ली रेफर कर दिया गया।  जिले में ब्लैक फंगस के लक्षणों का यह पहला मामला है। निजी नेत्र चिकित्सक ने बताया कि कोविड रोगी रहे व्यक्ति में लक्षण मिलने पर उन्हें रेफर किया गया है ताकि समुचित जांच के बाद बेहतर इलाज चल सके। 

सीएमओ डॉ. सीमा अग्रवाल का कहना है कि इस बीमारी में नाक से खून और आंखों मे सूजन आती है। आंखों की रोशनी भी प्रभावित होती  है। इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग में अलर्ट किया गया है। संबंधित व्यक्ति  के बारे में जांच की जा रही है।

कोविड-19 नोडल अफसर डॉ. सीएम चतुर्वेदी ने बताया, जब मरीज कोरोना या डायबिटीज आदि रोग से ग्रसित होता है तो उसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता घट जाती है। तब यह फंगस आदि अटैक करता है। फिलहाल मेरी जानकारी में मामला नहीं है।

संबंधित खबरें