DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शताब्दी एक्सप्रेस से संदिग्ध अरेस्ट: हमले का कोड था-'सलमान-कैटरीना आएंगे, लालकिला ले जाएंगे'

शताब्दी एक्सप्रेस से संदिग्ध गिरफ्तार, गणतंत्र दिवस पर हमले की थी साजिश

शताब्दी एक्सप्रेस से रविवार को सुरक्षा एजेंसियों ने एक कश्मीरी युवक को गिरफ्तार किया। पूछताछ में सुरक्षा एजेंसियों को पता चला है कि गणतंत्र दिवस पर उसके दो साथी राजधानी नई दिल्ली में किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं। यह सुनकर हड़कंप मच गया। संदिग्ध का नाम बिलाल अहमद बताया जा रहा है।

पूछताछ में कश्मीरी युवक ने सुरक्षा एजेंसियों के समक्ष कहा कि ‘सलमान-कैटरीना आएंगे, लालकिले ले जाएंगे। एजेंसयां इसका मतलब समझने की कोशिश में लगी हुई हैं। बाद में एटीएस टीम देर रात उसे नई दिल्ली लेकर रवाना हो गई। हालांकि यूपी एटीएस आईजी असीम अरूण ने बताया कि इसके पीछे अभी तक किसी आंतकी कनेक्शन की पुष्टि नहीं हुई है।

राजकीय रेलवे पुलिस (जीआरपी) को रविवार सुबह कंट्रोल से सूचना मिली कि शताब्दी एक्सप्रेस में संदिग्ध कश्मीरी युवक सवार है। ट्रेन सुबह 08:03 बजे मथुरा जंक्शन पहुंची। ट्रेन के सी-6 कोच में सवार संदिग्ध को जीआरपी ने टीसी के इंगित करने पर हिरासत में ले लिया। सुरक्षा एजेंसियों की गिरफ्त में आने पर युवक ने गूंगा-बहरा होने का नाटक किया। तमाम प्रयासों के बाद भी थाने पर वह काफी देर तक कुछ नहीं बोला। इस दौरान तलाशी में उसके पास से आधार कार्ड मिला, उसमें उसका नाम बिलाल अहमद वानी पुत्र रमजान अहमद वानी निवासी दिलगांव, अनंतनाग लिखा था। सूचना पर सेना खुफिया विभाग की टीम, आईबी और एलआईयू की टीम जीआरपी थाने पहुंच गईं। टीमों के अफसरों ने उससे पूछताछ शुरू की। सख्ती होते ही युवक बोलने लगा। शाम करीब पांच बजे एटीएस के एसपी ब्रजेश श्रीवास्तव अपनी टीम के साथ उससे पूछताछ करने पहुंचे। एटीएस टीम भी उससे दो घंटे तक पूछताछ करती रही। बाद में शाम सात बजे एटीएस उसको गोपनीय स्थान पर लेकर चली गई। एटीएस एसपी ने बताया कि संदिग्ध युवक से पूछताछ की जा रही है। दिल्ली में रह गए हैं दो साथी

संदिग्ध युवक ने पूछताछ में सुरक्षा एजेंसियों को अपने दो साथियों के बारे में बताया। उसने बताया कि उसके साथी दिल्ली के किसी होटल में ठहरे हुए हैं। वे गणतंत्र दिवस पर किसी साजिश को अंजाम देने वाले हैं। साथ ही उसने यह भी बताया कि वह उनके साथ बतौर ड्राइवर आया था। बताते हैं कि वह किसी प्रकार निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पहुंचा। जहां उसने अपना मोबाइल फोन और सिम तोड़ कर फेंक दिया। सूत्रों ने बताया कि एक सिम उसके पास से मिला है, जिसके बारे में जांच एजेंसियां जानकारी जुटा रही हैं।

‘सलमान-कैटरीना आएंगे, लालकिले ले जाएंगे

संदिग्ध ने पूछताछ के दौरान कोडवर्ड की जानकारी दी है। उसने बताया कि उसे सलमान, केटरीना और टाइगर जिंदा है व फेक करेंसी जैसे कोड दिए गए हैं। सूत्रों का कहना है कि वह कैटरीना से मिल भी चुका है। इन कोड का क्या मतलब है, इस बारे में खुफिया विभाग की टीमें जुटी हैं। वहीं जंक्शन से पकड़े गए संदिग्ध कश्मीरी युवक से पूछताछ में लालकिले का नाम आने से सुरक्षा एजेंसियों में हड़कंप है। उसने बताया कि सलमान-कैटरीना आएंगे, लालकिले ले जाएंगे। इसका मतलब समझने की कोशिश में जांच एजेंसियां लगी हैं। पूछताछ में बिलाल अहमद ने टाइगर जिंदा है फिल्म का जिक्र किया। बताया कि फिल्म की तर्ज पर सलमान और कैटरीना आएंगे और मुझे लाल किले पहुंचाएगे। इस बात से खुफिया एजेंसियों में हड़कंप मचा हुआ है। खुफिया एजेंसियों का मानना है कि लालकिले पर गणतंत्र दिवस के मौके पर कार्यक्रम होना है। ऐसे में उसकी किसी भी बात को हल्के में नहीं लिया जा सकता है। सूत्र बताते हैं कि संदिग्ध कभी-कभी पागलों जैसी हरकत भी करने लगता था। एटीएस की टीम युवक को आगरा ले गई है। वहीं उससे पूछताछ चल रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:suspect arrested from Mathura junction Terror links not confirmed yet