ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशसड़क दुर्घटना रोकने के लिए यूपी में विशेष अभियान, गाड़ी के साथ अब ड्राइवरों का भी होगा फिटनेस टेस्ट

सड़क दुर्घटना रोकने के लिए यूपी में विशेष अभियान, गाड़ी के साथ अब ड्राइवरों का भी होगा फिटनेस टेस्ट

परिवहन विभाग ने सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए कार्ययोजना बना रही है। इसके लिए 15 दिन का सड़क सुरक्षा पखवाड़ा मनाया जाएगा। साथ ही वाहनों का फिटनेस और ड्राइवरों के मेडिकल फिटनेस की जांच कराई जाएगी।

सड़क दुर्घटना रोकने के लिए यूपी में विशेष अभियान, गाड़ी के साथ अब ड्राइवरों का भी होगा फिटनेस टेस्ट
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,लखनऊThu, 07 Dec 2023 09:46 PM
ऐप पर पढ़ें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर परिवहन विभाग ने सड़क दुर्घटनाओं में 50 प्रतिशत कमी लाने की कार्ययोजना तैयार की है। इसके तहत अंतर्विभागीय समन्वय के साथ पूरे प्रदेश में 15 से 31 दिसंबर तक सड़क सुरक्षा पखवारा मनाया जाएगा। इस दौरान स्कूली वाहनों का फिटनेस टेस्ट भी कराया जाएगा।

विभागीय सर्वे में पाया गया है कि ओवरस्पीडिंग, रांग साइड ड्राइविंग, मोबाइल फोन का प्रयोग और ड्रंकन ड्राइविंग सड़क दुघर्टनाओं के प्रमुख कारण होते हैं। यह सभी मानवजनित कारण हैं, जिसके लिए जागरूकता की जरूरत है। सड़क सुरक्षा पखवारे में इस पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। साथ ही प्रदेश के सभी स्कूली वाहनों का फिटनेस तथा वाहन चालकों के मेडिकल फिटनेस की जांच कराई जाएगी। 

कॉमर्शियल चालकों को जारी होंगे हेल्थ कार्ड

सभी शिक्षण संस्थानों में प्रार्थना सभा में छात्रों को सड़क सुरक्षा एवं यातायात नियमों की जानकारी दी जाएगी एवं सड़क सुरक्षा शपथ ग्रहण कराया जाएगा। कोहरे के मद्देनज़र प्रभावी पेट्रोलिंग की जाएगी। कॉमर्शियल चालकों के लिए हेल्थ कार्ड अनिवार्य रूप से जारी किए जाएंगे। ओवरलोडिंग को टास्क फोर्स द्वारा सोर्स प्वाइंट पर ही रोका जाएगा। शासन ने निर्देश दिया है कि सभी मंडल एवं जनपद स्तरीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठकें अनिवार्य रूप से कराई जाएं।

बैठक में जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित कर उनके सुझाव लिए जाएं। इसके अलावा विषय विशेषज्ञों तथा स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों को भी आमंत्रित किया जा सकता है। आपदा मित्रों को सड़क दुर्घटनाओं में घायल व्यक्ति को बचाने की भी ट्रेनिंग दी गई है। सड़क दुर्घटना होने पर उन्हें भी सूचित करने की व्यवस्था की जाए।

तीन बार ट्रैफिक चालाना के बाद कैंसिल होगा ड्राइविंग लाइसेंस

यूपी में ट्रैफिक नियम तोड़ने वाला पर अब सख्ती बरती जाएगी। तीन बार ट्रैफिक चालान के बाद ड्राइविंग लाइसेंस कैंसल होगा। अगर फिर भी  नहीं माने तो गाड़ी का रजिस्ट्रेशन निरस्त किया जाएगा।.मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र ने निर्देश दिया है कि सड़क दुर्घटनाओं को रोकने के लिए 15 से 31 दिसंबर तक सड़क सुरक्षा पखवाड़ा आयोजित किया जाए। इस दौरान दुर्घटनाओं के प्रति लोगों को जागरूक किया जाए। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें