ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशसोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेल से भी रखी जाएगी नजर, यूपी पुलिस ने बनाया कंट्रोल रूम

सोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेल से भी रखी जाएगी नजर, यूपी पुलिस ने बनाया कंट्रोल रूम

विधानसभा चुनाव में सोशल मीडिया की मॉनिटरिंग के लिए यूपी पुलिस का सोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेंटर तीन शिफ्टों में काम करेगा। इसके अलावा चुनाव के लिए अलग से कंट्रोल रूम भी पुलिस मुख्यालय पर बनाया गया है।...

सोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेल से भी रखी जाएगी नजर, यूपी पुलिस ने बनाया कंट्रोल रूम
लखनऊ। विशेष संवाददाताTue, 11 Jan 2022 10:41 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

विधानसभा चुनाव में सोशल मीडिया की मॉनिटरिंग के लिए यूपी पुलिस का सोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेंटर तीन शिफ्टों में काम करेगा। इसके अलावा चुनाव के लिए अलग से कंट्रोल रूम भी पुलिस मुख्यालय पर बनाया गया है। चुनाव से संबंधित फर्जी खबरों के सत्यापन व खण्डन के लिए यूपी पुलिस ने फैक्ट चेक के लिए अलग से ट्विटर हैण्डल (UPPViralCheck) बनाया है। इस हैंडल के लिए अलग से टीम तैनात की जाएगी। वहीं सोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेल में 15 पुलिस कर्मियों की अतिरिक्त टीम भी तैनात की जा रही है। इसके अलावा फेसबुक, यू ट्यूब, इंस्टाग्राम व टेलीग्राम पर 24 घंटे निगरानी की जाएगी।

हर गांव-मोहल्ले की सूचनाओं के लिए यूपी पुलिस अपने व्हाट्सएप के डिजिटल वालंटियर के नेटवर्क को और मजबूत किया जा रहा है। इससे अभी तक पांच लाख लोग जुड़ चुके हैं। फर्जी खबरों के खडन के लिए व्हाट्सएप ग्रुप के साथ फेसबुक व टेलीग्राम का भी इस्तेमाल किया जाएगा। किसी भी सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर फर्जी या वैमनस्यकारी पोस्ट पर कानून-व्यवस्था या साम्प्रदायिक तनाव की स्थिति पैदा करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी। अपर पुलिस महानिदेशक के तहत काम कर रहे नियंत्रण कक्ष द्वारा सी प्लान एप को संचालित किया जा रहा है जिससे हर गांव के 10 सम्भ्रांत व्यक्तियों को उनके मोबाइल नंबर के साथ जोड़ा गया है। चुनाव आयोग के सीविजिल ऐप के जरिए डीजीपी नियंत्रण कक्ष में कोई भी सूचना प्राप्त होने पर इस सूचना को जिलों के एसएसपी/एसपी को अवगत कराया जाएगा। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें