ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशस्मृति ईरानी का अमेठी में गृह प्रवेश, जनता से वादा पूरा, कांग्रेस के लिए बड़ा संदेश

स्मृति ईरानी का अमेठी में गृह प्रवेश, जनता से वादा पूरा, कांग्रेस के लिए बड़ा संदेश

स्मृति ईरानी का अमेठी में आज विधि विधान से गृह प्रवेश हुआ। अमेठी में नए घर और स्थाई ठिकाने के साथ जनता से किया गया वादा पूरा किया। साथ ही ठिकाने से कांग्रेस को बड़ा संदेश गया है।

स्मृति ईरानी का अमेठी में गृह प्रवेश, जनता से वादा पूरा, कांग्रेस के लिए बड़ा संदेश
Deep Pandeyचिंतामणि मिश्र,अमेठीThu, 22 Feb 2024 02:20 PM
ऐप पर पढ़ें

26 साल बाद अमेठी के सांसद का यहां स्थानीय ठिकाना हो गया। स्मृति ईरानी का जनता से किया गया वादा पूरा हो गया। गौरीगंज के मेदन मवई गांव में स्मृति ईरानी ने अपने निजी आवास में विधि विधान के साथ पति जुबिन ईरानी के साथ पूजा पाठ कर गृह प्रवेश किया। स्मृति ईरानी ने अमेठी में घर बनाकर कांग्रेस और राहुल को बड़ा संदेश दिया है कि वो अब यहीं टिककर रहेंगी। दरअसल, 2019 में कांग्रेस के तत्कालीन अध्यक्ष राहुल गांधी से अमेठी में मुकाबला कर रही केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने गांधी परिवार के अमेठी में कोई स्थानीय ठिकाना न होने की भी बात उठाई थी। इसके साथ ही उन्होंने यह वादा किया था कि यदि अमेठी की जनता उन्हें संसद चुनती है तो वे यहीं घर बनवाएंगी। अपने इस वायदे पर अमल करते हुए केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने 22 फरवरी 2021 को गौरीगंज तहसील क्षेत्र के मेदन मवई गांव में 11 विश्वा जमीन आवास के लिए खरीदी थी।

29 जुलाई 2021 को स्मृति ईरानी के पुत्र जोहर ईरानी ने यहां पर विधिवत भूमि पूजन कर आवास की आधारशिला रखी थी। आवास का निर्माण शुरू होने के साथ ही स्मृति ईरानी अपने यहां पर कई कार्यक्रम आयोजित की उनके द्वारा खिचड़ी भोज, होली मिलन, एकदिवसीय राम कथा के साथ ही प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के दौरान भोज और कारसेवकों का सम्मान कार्यक्रम इसी आवास पर आयोजित किया गया था। अब जबकि लोकसभा चुनाव एकदम नजदीक आ गया है तो गुरुवार को स्मृति ने पति जुबिन ईरानी के साथ वास्तु पूजन करने के बाद घर में गृह प्रवेश किया। महाकालेश्वर मंदिर उज्जैन से आए आशीष जी महाराज ने सभी वैदिक क्रिया कर्म संपन्न कराए।

बेहद खूबसूरत है आवास
 ऊंची बाउंड्री वॉल के पिछले हिस्से में बने आवास को बेहद खूबसूरत ढंग से बनाया गया है। आवास के एक कोने पर एक छोटा सा मंदिर भी बनाया गया है। जबकि सामने एक लान विकसित किया जा रहा है। जिसमें किनारो पर आकर्षक फूल व पौधे लगाए गए हैं। बाहरी गेट पर भगवान श्री राम महर्षि वाल्मीकि और हनुमान जी के चित्र बनाए गए हैं जबकि दक्षिणी दीवार पर रामपत और राम मंदिर का चित्र बनाया गया है।

अब तक दो सांसदों ने ही बनाया स्थानीय ठिकाना
अमेठी लोकसभा क्षेत्र से विद्याधर बाजपेई,  संजय गांधी राजीव गांधी सोनिया गांधी कैप्टन शर्मा राहुल गांधी जैसे लोगों ने नुमाइंदगी की लेकिन  महज दो लोगों ने ही यहां पर स्थानीय ठिकाना बनाया था। यह दोनों ही लोग अमेठी के रहने वाले थे। जिनमें 1977 में सांसद चुने गए रविंद्र प्रताप सिंह जबकि 1998 में सांसद चुने गए डॉ. संजय सिंह शामिल हैं। स्मृति ईरानी इकलौती ऐसी सांसद है। जिन्होंने अमेठी में आकर यहां पर स्थानीय ठिकाना बनाया है।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें