ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी में प्राइमरी शिक्षकों का छह साल का इंतजार खत्‍म होगा, जिले के अंदर तबादले की तैयारी

यूपी में प्राइमरी शिक्षकों का छह साल का इंतजार खत्‍म होगा, जिले के अंदर तबादले की तैयारी

परिषदीय शिक्षकों के जिले के अंदर तबादले में 6 साल से विफल बेसिक शिक्षा विभाग एक बार फिर तबादले की प्रक्रिया शुरू करने जा रहा है। बेसिक शिक्षा विभाग तबादले का प्रस्ताव शासन को भेज चुका है।

यूपी में प्राइमरी शिक्षकों का छह साल का इंतजार खत्‍म होगा, जिले के अंदर तबादले की तैयारी
Ajay Singhमुख्य संवाददाता,प्रयागराजMon, 24 Jun 2024 05:28 AM
ऐप पर पढ़ें

Primary Teachers Transfer: परिषदीय शिक्षकों के जिले के अंदर तबादले में छह साल से विफल बेसिक शिक्षा विभाग एक बार फिर से स्थानान्तरण की प्रक्रिया शुरू करने जा रहा है। बेसिक शिक्षा विभाग की ओर से तबादले का प्रस्ताव शासन को भेजा जा चुका है और इसी सप्ताह शासनादेश जारी करने की तैयारी है। अब सवाल यह है कि क्या विभाग छह साल बाद शिक्षकों का ओपन ट्रांसफर करने में सफल होगा या हर बार की तरह कानूनी दांवपेच में मामला फंसा रह जाएगा।

जिले के अंदर 2018, 2019 और 2023 में सिर्फ पारस्परिक स्थानांतरण और समायोजन हुए हैं। इसके अलावा तीन बार अंतर्जनपदीय स्थानांतरण के चलते दूसरे जिलों से आए शिक्षक-शिक्षिकाओं को जिला मुख्यालय के करीब विद्यालय आवंटित किए जा चुके हैं। नियम है कि पुरुष शिक्षकों को तैनाती के प्रथम पांच वर्ष और महिलाओं को सेवाकाल के दो वर्ष पिछड़े ब्लॉक में सेवा देनी है। जबकि उसी जनपद में पांच साल की सेवा पूरी कर चुके शिक्षक-शिक्षिकाओं को खुले स्थानांतरण से वंचित रखा गया है। इसके चलते सैकड़ों वरिष्ठ शिक्षक-शिक्षिकाएं जिला मुख्यालय से 70 से 100 किलोमीटर दूर के स्कूल में सेवा देने के लिए विवश हैं।

नगर क्षेत्र के स्कूलों में शिक्षकों की कमी
जिले के अंदर स्थानांतरण न होने के चलते नगर क्षेत्र एवं शहरी एचआरए क्षेत्र के ज्यादातर विद्यालयों में शिक्षकों के पद रिक्त हैं। इसके चलते शिक्षक छात्र अनुपात बिगड़ने के चलते छह से 14 वर्ष के बच्चों की शिक्षा के मौलिक अधिकार (आरटीई) के दावे भी हवा-हवाई साबित हो रहे हैं।

राजकीय शिक्षकों के तबादले के लिए आवेदन आज से
राजकीय माध्यमिक विद्यालयों एवं इंटर कालेजों में कार्यरत सहायक अध्यापकों (एलटी) एवं प्रवक्ताओं के स्थानांतरण के लिए ऑनलाइन आवेदन 24 से 26 जून तक लिए जाएंगे। खास बात यह है कि पहली बार मानव संपदा पोर्टल के माध्यम से तबादले किए जा रहे हैं। अपर शिक्षा निदेशक राजकीय अजय कुमार द्विवेदी की ओर से रविवार को जारी टाइमलाइन के अनुसार 25 से 27 जून तक जिला विद्यालय निरीक्षक आवेदन पत्रों का परीक्षण कर ऑनलाइन (स्वीकार या निरस्त) करने के बाद प्रमाणपत्र उपलब्ध कराएंगे। डीआईओएस से अग्रसारित आवेदन पत्रों को संकलित कर अपर शिक्षा निदेशक (राजकीय) या उप शिक्षा निदेशक (महिला) 27 जून को समिति के समक्ष प्रस्तुत करेंगे।

मानव संपदा पोर्टल के माध्यम से प्राप्त आवेदन पत्रों को समिति की ओर से मानक/गुणांक के आधार पर 28 जून को मेरिट तैयार करते हुए प्रोसेसिंग करेगी। 30 जून को ऑनलाइन स्थानान्तरण आदेश जारी होंगे। इच्छुक आवेदक उपलब्ध रिक्तियों के अनुसार वरीयताक्रम में अधिकतम पांच विकल्पों का चयन कर सकते हैं। स्थानांतरण के लिए उच्च गुणांक वाले आवेदक को प्राथमिकता दी जाएगी।