ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशसीतापुर : जाल में फंसी डॉल्फिन को मार डाला, एक आरोपी गिरफ्तार

सीतापुर : जाल में फंसी डॉल्फिन को मार डाला, एक आरोपी गिरफ्तार

सीतापुर में शारदा सहायक नहर में डॉल्फिन मिली तो ग्रामीणों ने उसे मारकर खा लिया। राज कुछ घण्टों बाद उस समय खुला जब गांव के ही एक युवक ने डॉल्फिन पकड़े जाने का वीडियो वायरल कर दिया। आनन फानन में वीडियो...

सीतापुर : जाल में फंसी डॉल्फिन को मार डाला, एक आरोपी गिरफ्तार
Deep Pandeyहिन्दुस्तान टीम,सीतापुरTue, 18 May 2021 02:15 PM
ऐप पर पढ़ें

सीतापुर में शारदा सहायक नहर में डॉल्फिन मिली तो ग्रामीणों ने उसे मारकर खा लिया। राज कुछ घण्टों बाद उस समय खुला जब गांव के ही एक युवक ने डॉल्फिन पकड़े जाने का वीडियो वायरल कर दिया। आनन फानन में वीडियो साक्ष्य के आधार पर एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया। अन्य की तलाश में कई स्थानों पर दबिशे दी गई हैं। हरगांव एसओ का कहना है कि डॉल्फिन खीरी जनपद से नहर के सहारे आ गई थी, ग्रामीणों ने जाल डालकर उसे पकड़ लिया और बाद में लोग उसे काटकर खा गए। एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य की तलाश हो रही है। 

शारदा सहायक नहर खीरी जनपद से होकर रायबरेली जाती है। हरगांव थाना क्षेत्र के दजियारा निवासी कई ग्रामीणों ने रविवार दोपहर बाद शारदा सहायक नहर में जाल डाल दिया। बताते हैं कि कई घण्टों के बाद उस जाल में डॉल्फिन फंस गई। गांव के लोगों ने जाल से उसे बाहर निकाला और फिर मार डाला, इस दौरान एक युवक ने वीडियो बनाकर उसे वायरल कर दिया। मामला देर रात पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के संज्ञान में आया। एसपी आरपी सिंह ने बताया कि वीडियो साक्ष्य के आधार पर रात में ही आरोपियों की तलाश शुरू की गई और वन विभाग के अधिकारियों को सूचना दी गई। कई घण्टों की चली तलाश के बाद डॉल्फिन को मार डालने के मुख्य आरोपी दजियारा निवासी पृथ्वी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

एसओ हरगांव डीपी शुक्ला का कहना है कि हरगांव रेंज के वनकर्मी कमलेश कुमार की तहरीर पर दजियारा निवासी पृथ्वी, उसका पुत्र मिथुन सहित कई अन्य अज्ञात लोगों के विरुद्ध वन्य जीव संरक्षण अधिनियम की धारा 1972 की धारा एक, 39 और 51 के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया है। बताया कि गिरफ्तार किए गए मुख्य आरोपी पृथ्वी से पूछताछ की गई तो उसने स्वीकार किया है कि जाल में डॉल्फिन मछली फंस गई थी, उसने अपने साथियों के साथ लापरवाही बरतते हुए वन विभाग को सूचना नहीं दी और बाद में उसे मारकर लोगों को खाने के लिए दे दिया। एसओ का कहना है कि फिलहाल साक्ष्य के तौर पर वीडियो और आरोपी का बयान है, फिलहाल डॉल्फिन के शव का कोई अंश नहीं मिल सका है। 

खीरी भेजी गई टीम 

आरोपियों की तलाश में पुलिस ने सक्रियता दिखाई है। एसओ हरगांव ने बताया है कि पृथ्वी के पुत्र मिथुन सहित कई अन्य की तलाश में एक टीम खीरी जनपद भेजी गई है जल्द ही अन्य आरोपी भी गिरफ्तार कर लिए जाएंगे।