DA Image
6 जुलाई, 2020|4:40|IST

अगली स्टोरी

एसआईटी ने दूसरे दिन भी खंगाला जौहर यूनिवर्सिटी का रिकार्ड

jauhar university

उत्तर प्रदेश के रामपुर के जौहर ट्रस्ट और जौहर विश्वविद्यालय से जुड़ी गड़बड़ियों के आरोपो की जांच करने के लिए गठित एसआईटी ने दूसरे दिन भी यूनिवर्सिटी की जमीन से संबंधित रिकार्ड खंगाले। टीम के सामने आज कई और विभागों के अफसर पेश होंगे और रिकार्ड पेश करेंगे।

गौरतलब है कि उद्योग भारती के क्षेत्रीय संयोजक आकाश सक्सेना, अधिवक्ता मुस्तफा हुसैन, पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष अब्दुल सलाम और फैसल खान लाला ने मुख्यमंत्री से जांच टीम गठित करने की मांग की थी। इसका आरोप है कि सपा सरकार में मंत्री रहते हुए जौहर यूनिवर्सिटी के संस्थापक मौहम्मद आज़म खान ने सरकारी धन का दुर्रुपयोग किया है।

योगी सरकार ने रामपुर के जौहर शोध संस्थान और ट्रस्ट में हुई गड़बड़ियों की शिकायत की जांच एसआईटी को सौंप दी थी। आरोप है कि सरकारी खर्च और वक्फ की जमीन पर बने शोध संस्थान को गलत तरीके से 99 साल के लिए ट्रस्ट को लीज पर दे दिया गया।

अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री बलदेव सिंह औलख की सिफारिश पर मामले की जांच के आदेश दिए गए थे। एसआईटी ने जौहर शोध संस्थान और ट्रस्ट में हुई गड़बड़ियों की शिकायत पर रामपुर डीएम, पीडब्ल्यूडी, सिंचाई विभाग, अल्पसंख्यक विभाग और लखनऊ में निबंधक, फर्म्स, सोसायटजी एंड चिट्स से दस्तावेज तलब किये थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:SIT in Jauhar University on second day