ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशरेप के केस को बनाया हथियार, फिर खुद ही बोली फर्जी है, पड़ोसी से झगड़े में फंस गई पड़ोसन 

रेप के केस को बनाया हथियार, फिर खुद ही बोली फर्जी है, पड़ोसी से झगड़े में फंस गई पड़ोसन 

पड़ोसी से झगड़े में रेप के केस को हथियार बनाना एक पड़ोसन पर भारी पड़ गया। पुलिस ने अब उसके खिलाफ केस दर्ज करने की तैयारी कर ली है। इस महिला ने खुद एसपी सिटी से कहा कि उसने फर्जी केस दर्ज कराया था।

रेप के केस को बनाया हथियार, फिर खुद ही बोली फर्जी है, पड़ोसी से झगड़े में फंस गई पड़ोसन 
Ajay Singhवरिष्ठ संवाददाता,गोरखपुरWed, 22 May 2024 03:53 PM
ऐप पर पढ़ें

Gorakhpur News: पड़ोसी से झगड़े में रेप के केस को हथियार बनाना एक पड़ोसन पर भारी पड़ गया। पुलिस ने अब उसके खिलाफ केस दर्ज करने की तैयारी कर ली है। इस महिला ने खुद एसपी सिटी के पास पहुंच कर कहा कि उसने जो केस दर्ज कराया है, वह फर्जी है। पड़ोसी से झंगड़ा होने पर उसने दुष्कर्म का फर्जी केस दर्ज कराया था। उसकी बातों को सुनने के बाद एसपी सिटी केके बिश्नोई ने दुष्कर्म का फर्जी केस दर्ज कराने वाली महिला पर केस दर्ज करने का निर्देश दे दिया।

दअरसल, इसी तरह के आपसी विवाद में फर्जी केस दर्ज कराने पर बेगुनाह को जेल तक जाना पड़ता है। सामने आई यह घटना गुलरिहा इलाके की है। करीब पांच महीने पहले महिला का पड़ोसी से जमीन को लेकर विवाद हो गया। इसके बाद महिला ने थाना पुलिस को सूचना दी कि पड़ोसी रंजिश में घर में घुस गया और मारपीट करने के साथ दुष्कर्म किया। महिला के बताए अनुसार पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी को जेल भी भेज दिया। अब महिला मंगलवार को शपथपत्र लेकर एसपी के पास पहुंची।

बताया कि दबाव में आकर दुष्कर्म का केस दर्ज करा दी थी। उसने मुकदमा खत्म करने की गुहार लगाई। जिसके बाद एसपी सिटी कृष्ण कुमार विश्नोई ने मिसाल पेश करते हुए महिला पर झूठा दुष्कर्म का केस कराने के आरोप में केस दर्ज करने का निर्देश दिया है।

क्‍या बोली पुलिस 
गोरखपुर के एसपी सिटी कृष्‍ण कुमार बिश्नोई ने कहा कि महिला ने फर्जी तरीके से केस दर्ज कराने की जानकारी खुद दी है। उसने केस को खत्म करने का शपथ पत्र दिया है। किसी पर भी झूठा केस दर्ज कराना कानूनी अपराध है। आरोपी महिला पर गुलरिहा पुलिस को केस दर्ज करने का निर्देश दिया गया है।