DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

21 फरवरी को अयोध्या में राम मंदिर का शिलान्यास करेंगे: शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती

शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती

शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती (Swaroopanand Saraswati) ने ऐलान किया था कि अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर (Ram Mandir) निर्माण के लिए 21 फरवरी को भूमि पूजन किया जाएगा। इसी क्रम में अब शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती 17 फरवरी को प्रयागराज से अयोध्या के लिए कूच करेंगे। 19 फरवरी को अयोध्या पहुंचेंगे, 20 को जानकी घाट स्थित बड़ा स्थान में सवा लाख पार्थिव शिवलिंग का पूजन और सभा करेंगे। 21 को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए शिलान्यास करेंगे। इससे पहले कुंभ मेला क्षेत्र के सेक्टर नौ स्थित गंगा सेवा अभियानम के शिविर में आयोजित परम धर्म संसद (Param Dharm Sansad) के समापन पर शंकराचार्य ने यह ऐलान किया था कि राम मंदिर निर्माण के लिए 21 फरवरी को भूमि पूजन किया जाएगा। उन्होंने बताया था कि इसके लिए सभी अखाड़ों के संतों से बातचीत हो चुकी है। शंकराचार्य ने भूमि पूजन के लिए चार ईंटें भी मंगवाई थीं। 

शंकराचार्य स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा था कि मंदिर एक दिन में नहीं बनेगा, लेकिन जब शुरू होगा तभी तो बनेगा। इसलिए 21 फरवरी को शिलान्यास के जरिए मंदिर का निर्माण शुरू होगा। हमारे यहां मूर्ती लोहे या सीमेंट की नहीं, अष्टधातु, लकड़ी या मिट्टी की बनती है। हमें कंबोडिया के अंकोरवाट की तरह विशाल मंदिर अयोध्या में बनवाना है। अयोध्या को वेटिकन सिटी का दर्जा दिया जाए।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Shankaracharya Swaroopanand Saraswati wil leave for Ayodhya from Prayagraj on 17 February