DA Image
Saturday, November 27, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशबाहुबली विधायक विजय मिश्रा के परिवार पर शिकंजा, बेटे और पत्नी के बाद बेटियों पर भी केस दर्ज

बाहुबली विधायक विजय मिश्रा के परिवार पर शिकंजा, बेटे और पत्नी के बाद बेटियों पर भी केस दर्ज

भदोही लाइव हिन्दुस्तानYogesh Yadav
Fri, 03 Sep 2021 06:27 PM
बाहुबली विधायक विजय मिश्रा के परिवार पर शिकंजा, बेटे और पत्नी के बाद बेटियों पर भी केस दर्ज

यूपी की योगी सरकार में बाहुबलियों पर शिकंजा कसने का सिलसिला जारी है। भदोही की ज्ञानपुर सीट से विधायक विजय मिश्र और उनके कुनबे पर शिकंजा कसा जा रहा है। अब विधायक की दो बेटियों के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज हो गया है। विधायक व उनकी अधिवक्ता पुत्री रीमा पांडेय, सीमा मिश्रा, भतीजे प्रकाश चंद्र मिश्रा, विकास मिश्रा, कर्मचारी गिरधारी प्रसाद पाठक, हनुमान सेवक पांडेय के खिलाफ जालसाजी का मुकदमा दर्ज किया गया है। विधायक के रिश्तेदार की तहरीर पर मुकदमा दर्ज हुआ है। 

गोपीगंज कोतवाली क्षेत्र के धनापुर निवासी ज्ञानपुर विधायक के रिश्तेदार कृष्णमोहन तिवारी ने आरोप लगाया है कि विजय मिश्रा व उनकी बेटी समेत अन्य लोगों ने उनके नाम की दर्जनों गाड़ियों को हड़प लिया है। उन लोगों के द्वारा जबरिया वाहनों का उपयोग किया जा रहा है। इसको संज्ञान में लेते हुए गोपीगंज पुलिस ने विधायक सहित सात लोगों पर मुकदमा दर्ज किया।

इसी रिश्तेदार ने चार अगस्त 2020 को गोपीगंज कोतवाली में भवन और फर्म भी हड़पने के आरोप में विजय मिश्रा, एमएलसी एवं विधायक की पत्नी रामलली मिश्रा और बेटे विष्णु मिश्रा के खिलाफ केस दर्ज कराया था। अब बेटियों पर भी केस दर्ज हो गया है। इस आरोप में 14 अगस्त को विधायक को गिरफ्तार किया गया था। वर्तमान में ज्ञानपुर विधायक आगरा केंद्रीय जेल में निरुद्ध हैं, जबकि विधायक का बेटा फरार है। इसमें कुर्की की नोटिस भी चस्पा हो चुकी है।

15 दिन पहले विधायक के दो मुकदमों में चार्जशीट लगी थी।  एसपी राम बदन सिंह ने बताया कि विजय मिश्रा सहित सात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

विधायक पर मुसीबत आते ही सामने आती हैं बेटियां

जब-जब विधायक विजय मिश्रा पर कोई मुसीबत आती है उनकी बेटियां मुकाबले के लिए सामने आ जाती हैं। 2011 में विधायक विजय मिश्रा ने दिल्ली स्थित हौज खास थाने में समर्पण किया था। इसके बाद विधायक लंबे समय तक जेल में रहे लेकिन जेल में रहते हुए विजय मिश्र ने तीसरी बार ज्ञानपुर सीट से जीत हासिल कर ली। उस समय विधायक विजय मिश्र की बड़ी बेटी सीमा मिश्रा भदोही पहुंचीं और पूरे चुनाव की जिम्मेदारी संभाली थी।

सीमा मिश्रा उस समय तक राजनीति में नई थीं लेकिन उसके बाद भी उन्होंने विजय मिश्रा की पूरी चुनाव कैंपेनिंग अपने हाथ में ले ली और विधायक विजय मिश्र चुनाव जीते। उसके बाद जरूर सीमा मिश्रा ने खुद राजनीतिक में उतरने का फैसला किया और भदोही लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी से उन्हें टिकट मिला। लेकिन हार का सामना करना पड़ा।

पिछले साल मुकदमा दर्ज होने पर एमपी भाग गए विधायक विजय मिश्रा जैसे ही वहां हिरासत में लिए गए. उसके बाद बेटी रीमा पांडेय भदोही पहुंच गईं। रीमा पेशे से अधिवक्ता भी हैं और उन्होंने इस संबंध में पुलिस अधिकारियों से मुलाकात कर विधायक को सही सलामत भदोही लाने की मांग की। यही नहीं वह मीडिया के भी सामने पहली बार आईं और अपने पिता को सही सलामत लाने की मांग की करने के साथ पुलिस की कार्रवाई पर कई सवाल खड़े किए। विधायक विजय मिश्रा की 5 बेटियां और एक बेटा है। सभी बेटियों की शादी हो चुकी है। विधायक की एक बेटी सीमा मिश्रा के अलावा किसी अन्य बेटी का राजनीति से कोई संबंध नहीं है।

विजय मिश्रा की बहू पुष्पलता ने रिश्तेदार की शिकायत की

विधायक विजय मिश्र की बहू पुष्पलता मिश्रा ने एसपी से मिलकर आरोप लगाया कि कृष्णमोहन तिवारी पूरे परिवार को फर्जी मुकदमा दर्ज कराकर बर्बाद करने की धमकी दे रहे हैं। घर से जबरिया निकाल रहे हैं। कृष्णमोहन तिवारी ने 19 वाहनों को हड़पने के आरोप में विधायक और उनकी अधिवक्ता पुत्री रीमा पांडेय, सीमा मिश्रा, विकास और प्रकाश मिश्रा सहित सात लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया है। इसी को लेकर कृष्णमोहन तिवारी की बहन एवं विधायक की बहू लगने वाली पुष्पलता मिश्रा एसपी से मिलकर शिकायत दर्ज कराईं है। 

आरोप लगाया कि कृष्णमोहन आए दिन फर्जी मुकदमा में फंसाने की धमकी देते रहते हैं। पूरे परिवार को बर्बाद करने की धमकी दी जाती है। वह पिता के समय से ही मकान में रह रही है। जबरिया बेदखल करना चाह रहे हैं। आरोप लगाया कि अभी उनके पुत्र को फर्जी तरीके से दुष्कर्म के मामले में फंसाया गया था।

अभी वह छूटकर आया है कि फिर बेटे और पति पर फर्जी मुकदमा दर्ज करा दिया गया। बताया कि कृष्णमोहन तिवारी और उनके लड़के मुकदमा वापस करने का दबाव बना रहे हैं। इस मामले में एसपी रामबदन सिंह ने कहा कि शिकायत मिली है, मामले की जांच कराई जाएगी।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें