DA Image
21 अक्तूबर, 2020|11:43|IST

अगली स्टोरी

यूपी में 19 अक्तूबर से खुल रहे हैं स्कूल, जान लीजिए किन बाताें का रखना होगा ध्यान 

school will not open in up

यूपी में सभी स्कूलों को 9वीं से 12वीं की कक्षाएं शुरू करने के लिए गाइडलाइन जारी कर दी गई है। सीबीएसई, आईसीएसई, माध्यमिक, राजकीय, वित्तविहीन सभी विद्यालयों को इसका पालन करना होगा। गाइडलाइन के मुताबिक, विद्यालय खोले जाने से पूर्व उन्हें पूरी तरह से सैनिटाइज करना होगा। यह प्रक्रिया प्रतिदिन प्रत्येक पाली के बाद सुनिश्चित करनी होगी। सैनिटाइजर, हैंडवाश, थर्मल स्क्र्रींनग, प्राथमिक उपचार की व्यवस्था अनिवार्य है। 

सैनिटाइजेशन सुनिश्चित हो
विद्यालय में प्रवेश और अवकाश के समय मुख्य द्वार पर सोशल डिस्र्टेंंसग का अनुपालन सुनिश्चित कराया जाए। एक साथ सभी विद्यार्थियों की छुट्टी न की जाए। विद्यालय में यदि एक से अधिक प्रवेश द्वार हैं तो उनका उपयोग करें। यदि छात्र बस से आते हैं तो बस को प्रतिदिन सैनिटाइज किया जाए। सभी शिक्षक, कर्मचारी, छात्र, विद्यालय के अन्य कर्मचारी को मास्क पहनना अनिवार्य होगा। विद्यालय प्रबंधन अतिरिक्त मात्रा में मास्क उपलब्ध रखे।

छह फुट की दूरी जरूरी
विद्यार्थियों को छह फुट की दूरी पर बैठने की व्यवस्था की जाए। ऑनलाइन पठन पाठन की व्यवस्था यथावत जारी रखी जाए और इसे प्रोत्साहित किया जाए। जिन विद्यार्थियों के पास ऑनलाइन क्लास की सुविधा नहीं है, उन्हें विद्यालय बुलाया जाए। 

बच्चों को रोज जागरूक करना होगा : 
कोविड-19 के फैलाव व उससे बचाव के उपायों से समस्त विद्यार्थियों को जागरूक किया जाए। राजकीय व सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालय, छात्र-छात्राओं, शिक्षकों व कर्मचारियों के कोविड-19 से बचाव के लिए आवश्यक सामग्री यथा-मास्क, सैनिटाइजर, थर्मल स्क्र्रींनग मशीन आदि की व्यवस्था करें।  

मदरसे सशर्त खोलने की मांगी अनुमति
मेरठ। जमीयत उलमा ए हिन्द के प्रतिनिधिमंडल ने जैनुर राशिद्दीन सिद्दीकी के नेतृत्व में कमिश्नर से मुलाकात की। ज्ञापन देकर कहा कि 16 अक्तूबर से स्कूल-कॉलेज सशर्त खोले जा रहे हैं। लिहाजा, मदरसों को भी खोलने की अनुमति दी जाए। 

गाइडलाइन 
- विद्यालय दो पालियों में संचालित किए जाए। प्रथम पाली में कक्षा नौ, 10 और द्वितीय पाली में कक्षा 11 व 12वीं के छात्रों को बुलाया जाए। 

-  एक दिन में अधिकतम 50 प्रतिशत तक विद्यार्थियों को ही बुलाया जाए। शेष विद्यार्थियों को अगले दिन बुलाया जाए। 

- विद्यार्थियों को माता-पिता, अभिभावकों की लिखित सहमति के बाद ही बुलाया जाए। 

- विद्यालय में उपस्थिति के लिए लचीला रुख अपनाया जाए व किसी विद्यार्थी को विद्यालय आने के लिए बाध्य न किया जाए। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:school reopen from 19 october 2020 in UP yogi government guidelines know which things to take care of parents students class 9 to 12th