DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

काशी विश्वनाथ मंदिर: सावन में शिवलिंग के पास भक्तों से दुर्व्यवहार, वीडियो वायरल होने पर लिया गया ये एक्शन 

काशीविश्वनाथ मंदिर

वाराणसी के विश्व प्रसिद्ध श्री काशी विश्वनाथ मंदिर में श्रद्धालुओं से कथित दुर्व्यवहार के आरोपी पुलिसकर्मी को उसकी वर्तमान तैनाती स्थल से हटा दिया गया है। इस मामले की जांच क्षेत्राधिकारी को सौंप दी गई है।

अपर पुलिस अधीक्षक (ज्ञानवापी) शैलेंद्र कुमार राय ने रविवार को बताया कि सावन माह के प्रथम दिन एवं सदी के सबसे बड़े चंद्रग्रहण के समाप्त होने के बाद शनिवार को श्रद्धालुओं का सैलाब बाबा भोले के दर्शन के लिए उमड़ पड़ा था। इसी दौरान सुरक्षा कर्मियों को व्यवस्था बनाये रखने के लिए कई श्रद्धालुओं तेजी से आगे बढ़ाने के दौरान कथित दुर्व्यवहार का वीडियो सामने आया था। उन्होंने बताया कि मंदिर के गर्भगृह में एक पुरुष पुलिस कर्मी द्वारा पुरुष एवं महिला दर्शनार्थियों के सिर पकड़कर लाइनों से तेजी से हटाने वाला एक वीडियो वायल होने के बाद प्रशासन ने स्वत-संज्ञान लिया है। उन्होंने बताया कि आरोपी पीएसी के एक सिपाही डी़एस़ यादव को सुरक्षा कार्य से मुक्त कर दिया गया है। उसे अपने बटालियन में लौटने का आदेश दिया गया है।

 उन्होंने बताया कि इसके अलावा एक अन्य मामले की जांच की ज्ञानवापी की क्षेत्राधिकारी प्रीति त्रिपाठी को सौंप दी गई है। उनसे इस मामले की जांच शीघ्र करने का आदेश दिया गया है। उन्होंने बताया कि सावन माह के दौरान मंदिर में लाखों श्रद्धालुओं के दर्शन-पूजन के लिए आने की संभावना के मद्देनजर विभिन्न स्थानों पर सुरक्षा के लिए तैनात पुलिस कर्मियों को विशेष दिशा निदेर्श दिये गए हैं। पुरुष पुलिस कर्मियों के साथ-साथ पयार्प्त संख्या में महिला पुलिस कमीर् भी तैनात किये हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:sawan 2018 action on policemen after he mis handle with devotees in kashi vishwanath temple