ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशसमधन से लड़ीं समधी की आंखें, पहली मुलाकात में दोनों हार गए दिल, कुछ दिन बाद उठा लिया खौफनाक कदम

समधन से लड़ीं समधी की आंखें, पहली मुलाकात में दोनों हार गए दिल, कुछ दिन बाद उठा लिया खौफनाक कदम

एक व्यक्ति को अपनी समधन से मोहब्बत हो गई। समधन भी समधी से बेपनाह प्यार करने लगी थी। दोनों ने चोरी-छिपे मिलना भी शुरू कर दिया। कुछ दिन बाद दोनों ने खौफनाक कदम उठा लिया।

समधन से लड़ीं समधी की आंखें, पहली मुलाकात में दोनों हार गए दिल, कुछ दिन बाद उठा लिया खौफनाक कदम
Dinesh Rathourलाइव हिंदुस्तान,हरदोईSun, 22 Oct 2023 03:18 PM
ऐप पर पढ़ें

Hardoi-Lakhimpur kheri News: कहते हैं कि प्यार अंधा होता है। यह कभी भी किसी को हो सकता है। प्यार न तो जाति-पात देखता है और न ही उम्र। ये एक रोग की तरह है जिसे हो जाए तो आसानी से नहीं जाता। इसमें पड़कर लोग परिवार या समाज का दुश्मन बन जाता है या फिर दुनिया ही छोड़ देता है। ऐसा ही एक मामला यूपी के दो जिलों से सामने आया है। यहां एक व्यक्ति को अपनी समधन से मोहब्बत हो गई। समधन भी समधी से बेपनाह प्यार करने लगी थी। दोनों ने चोरी-छिपे मिलना भी शुरू कर दिया। इसकी जानकारी जब दोनों के घर वालों को हुई तो उन्होंने दोनों के रिश्तों पर आपत्ति जता दी। दोनों के परिवार ने समधी और समधन के इस नए रिश्ते को जगह नहीं दी। दोनों के घर वालों की तरफ से रोज-रोज ताने मिलने शुरू हो गए। जिससे आहत होकर दोनों ने ट्रेन से कटकर जान दे दी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्ट के लिए हरदोई भेजा है। 

रविवार की सुबह जहानीखेड़ा में रेलवे ट्रैक पर दो एक महिला व एक पुरुष का शव पड़ा होने की सूचना पुलिस को मेमो द्वारा स्टेशन मास्टर से दी गयी। सूचना मिलने पर जहानीखेड़ा पुलिस चौकी इंचार्ज रामानंद मिश्रा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। मृतकों की पहचान लखीमपुर खीरी जिले के पसिगवां थानाक्षेत्र के सुहौना गांव निवासी रामनिवास और मैगलगंज थानाक्षेत्र के मुबारकपुर गांव की आशारानी के रूप में हुई। दोनो रिश्ते में समधी समधन थे। बताया जाता है कि कुछ माह पूर्व ही रामनिवास के बेटी की शादी मृतका के बेटे के साथ हुई थी। रामनिवास की पत्नी की काफी पहले मौत हो चुकी है,रिश्तेदारी होने के बाद उसका आना जाना बढ़ गया और दोनों में दोस्ती हो गई।

22 सितंबर को दोनों ने घर छोड़ दिया और भाग निकले। महिला की मैगलगंज कोतवाली में गुमशुदगी भी दर्ज कराई गई। चर्चा है इस कदम के उठाने के बाद दोनों को लोक लाज का भय सताने लगा और रविवार की सुबह दोनो ने जहानीखेड़ा में रेलवे ट्रैक पर ट्रेन से कटकर आत्महत्या कर ली। आशारानी के एक बेटा और दो बेटियां हैं जबकि रामनिवास की एक बेटी के अलावा कोई और नही था। पुलिस ने दोनो के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है। मामले को लेकर लोगों में तरह तरह की चर्चाएं हो रही हैं।

प्रेम-प्रसंग में घर से भागे थे समधन-समधी

लोगों के शव पड़े होने की सूचना पुलिस को मिली। दोनो शव दो हिस्सों में थे जिससे लोग अंदाजा लगा रहा थे कि ट्रेन से कटकर उनकी जान चली गयी। मृतकों में पुरूष की पहचान आधार कार्ड से पसिगवां थानाक्षेत्र के सुहौना गांव निवासी रामनिवास के रूप में हुई जबकि महिला की शिनाख्त खबर लिखे जाने तक नही हो सकी थी। बताया जाता है कि मृतक हरदोई जहानीखेड़ा रोड पर प्राइवेट बस चलाता था। लोगों में चर्चा थी कि कुछ माह पूर्व रामनिवास प्रेम प्रसंग के चलते एक महिला को लेकर रफूचक्कर हो था शायद उसी महिला का शव है। दोनों ट्रेन की चपेट में कैसे आए, कब दुर्घटना हुई,क्या कारण रहा होगा जैसे सवाल लोगों की जुबान पर थे। चौकी इंचार्ज रामानंद मिश्रा पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और जांच पडताल शुरू कर दी।  पुलिस शिनाख्त कराने का प्रयास कर रही थी। लोग इसको लेकर तरह तरह के कयास लगा रहे हैं।