ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशकाम पर लौट आइए, सैलरी नहीं बढ़ेगी; बेनतीजा रही यूपी-112 की महिला कर्मचारियों से एडीजी की बातचीत 

काम पर लौट आइए, सैलरी नहीं बढ़ेगी; बेनतीजा रही यूपी-112 की महिला कर्मचारियों से एडीजी की बातचीत 

यूपी-112 की महिलाकर्मियों की एडीजी नीरा रावत से बातचीत बेनतीजा रही। महिलाकर्मियों के मुताबिक एडीजी ने उनसे कहा कि वेतन नहीं बढ़ेगा, उतने पर ही काम करना होगा, जल्दी से काम पर लौट आइये...।

काम पर लौट आइए, सैलरी नहीं बढ़ेगी; बेनतीजा रही यूपी-112 की महिला कर्मचारियों से एडीजी की बातचीत 
Ajay Singhहिंदुस्‍तान,लखनऊSat, 11 Nov 2023 07:09 AM
ऐप पर पढ़ें

UP-112: लखनऊ के आलमबाग के ईकोगार्डन में धरने पर बैठी यूपी-112 की महिलाकर्मियों की एडीजी नीरा रावत से वार्ता बेनतीजा रही। महिलाकर्मियों ने कहा कि एडीजी ने रात को पांच सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल से मुलाकात कर कहा कि वेतन नहीं बढ़ेगा, उतने पर ही काम करना होगा, जल्दी से काम पर लौट आइये...। मगर पांचों ने इससे इनकार कर दिया। ईको गार्डन आकर तय किया गया कि धरना जारी रहेगा और सभी धरना स्थल पर ही दिवाली मनाएंगे। इस बीच सपा, कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता गुरुवार को को लगातार चौथे दिन कर्मचारियों के समर्थन में मौजूद रहे।

यूपी-112 की हर्षिता और प्रियंका के मुताबिक बुधवार देर रात पांच कर्मचारियों से एडीजी नीरा रावत ने अपने ऑफिस में मुलाकात की। उन्होंने साफ कहा कि वेतन नहीं बढ़ाया जा सकता है। सब लोग लौट आइए...और काम शुरू कर दीजिये...। वार्ता 15 मिनट में ही खत्म हो गई। प्रियंका ने बताया कि सबने तय किया कि पुराने वेतन पर काम नहीं किया जायेगा। गौरतलब है कि वेतन वृद्धि और स्थायी नियुक्ति पत्र देने की मांग करते हुए यूपी-112 की 200 से अधिक महिला कर्मचारियों ने सोमवार से काम बंद कर रखा है। धरना शुरू करने के दूसरे दिन पुलिस ने इन्हें ईकोगार्डन पहुंचा दिया।

सपा नेता की गाड़ी रोकने पर हंगामा 
सपा के व्यापारी नेता की गाड़ी को पुलिस ने ईकोगार्डन गेट पर रुकवा लिया। अंदर नहीं जाने देने पर सपा नेता पूजा शुक्ला ने पुलिस कमिश्नर से शिकायत की। इसके बाद पुलिस ने गाड़ी अंदर जाने दी। गाड़ी में खाने का सामान रखा था। प्रदर्शनकारी महिला कर्मियों ने आरोप लगाया कि पुलिस परिजनों को भी मिलने नहीं दे रही है।

‘श्रमायुक्त से तय वेतन पर सेवाएं दे रहीं कंपनियां’
यूपी 112 मुख्यालय ने महिला कर्मचारियों की हड़ताल पर सीधे-सीधे कोई टिप्पणी न करते हुए नई व्यवस्था की जानकारी दी। मुख्यालय अनुसार दोनों सेवा प्रदाता कंपनियां श्रमायुक्त से निर्धारित वेतन दर, अन्य नियम अनुसार सुचारू रूप से यूपी-112 को सेवाएं दे रही हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें