ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशरिटायर्ड सीओ ने किया दुष्कर्म, पति ने अप्राकृतिक संबंध के लिए करता है मारपीट, डॉक्टर बहू ने दर्ज कराया केस 

रिटायर्ड सीओ ने किया दुष्कर्म, पति ने अप्राकृतिक संबंध के लिए करता है मारपीट, डॉक्टर बहू ने दर्ज कराया केस 

मुरादाबाद जिले के सिविल लाइंस थाना क्षेत्र निवासी रिटायर्ड सीओ पर उनकी डॉक्टर बहू ने रिवाल्वर के बल पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। पीड़िता के अनुसार पूर्व में भी आरोपी ससुर ने उसके साथ छेड़छाड़....

रिटायर्ड सीओ ने किया दुष्कर्म, पति ने अप्राकृतिक संबंध के लिए करता है मारपीट, डॉक्टर बहू ने दर्ज कराया केस 
Dinesh Rathourवरिष्ठ संवाददाता,मुरादाबादFri, 24 Nov 2023 09:28 PM
ऐप पर पढ़ें

मुरादाबाद जिले के सिविल लाइंस थाना क्षेत्र निवासी रिटायर्ड सीओ पर उनकी डॉक्टर बहू ने रिवाल्वर के बल पर दुष्कर्म का आरोप लगाया है। पीड़िता के अनुसार पूर्व में भी आरोपी ससुर ने उसके साथ छेड़छाड़ और अश्लीलता की थी। पीड़िता ने पति पर अप्राकृतिक संबंध बनाने के साथ ही मारपीट व प्रताड़ना का भी आरोप लगाया है। शिकायत पर पुलिस ने रिटायर्ड सीओ, पत्नी और बेटे समेत चार लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है।

थाना सिविल लाइंस क्षेत्र निवासी महिला चिकित्सक ने बीते दिनों एसएसपी को तहरीर देकर बताया था कि उसकी शादी जून 2012 में रिटायर्ड सीओ के बेटे से हुई थी। आरोप है कि शादी के कुछ समय बाद से ही सीओ रहे उसके ससुर ने उसके साथ छेड़छाड़ और अश्लीलता शुरू कर दी। उसने कई बार इसका विरोध किया। पति व सास से शिकायत की तो उन्होंने ससुर को समझाने की बात कहकर चुप करा दिया। इसके बाद इसी साल आठ मई की रात पति की गैरमौजूदगी में ससुर उसके बेडरूम में घुस गए। इससे घबराकर उसने तत्काल मायके फोन कर दिया। उसी समय उसके भाई और पिता ससुराल पहुंच गए और उसे अपने साथ ले गए। हालांकि बाद में इज्जत का हवाला देकर ससुराल वाले कई पंचायत करके उसे फिर अपने साथ ससुराल लाए लेकिन इसके बाद पति ने उसके साथ अप्राकृतिक संबंध बनाए।

पीड़िता के मुताबिक दिवाली वाले दिन 12 नवंबर को रात करीब नौ बजे जब घर के सभी लोग पटाखे जला रहे थे, उसी दौरान आरोपी ससुर फिर उसके कमरे में घुस आया और कमरा बंद करके रिवाल्वर सिर पर तानकर उसके साथ दुष्कर्म किया। उसकी चीख-पुकार पटाखों के शोर में दब गई। वह किसी तरह बाहर आई तो उसने पति व सास को अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी। इस पर उसकी मदद के बजाय पति, सास और देवर उसे बेडरूम में ले गए और मारपीट कर उसकी जान लेने की कोशिश की। असफल होने पर उसे कमरे में बंद कर दिया। पीड़िता के मुताबिक वह अगले दिन किसी तरह भागकर मायके पहुंची और परिजनों को सब कुछ बताया।

पीड़िता ने पूरे मामले की शिकायत एसएसपी से करने के साथ ही मुख्यमंत्री ऑफिस, डीजीपी और महिला आयोग से भी की है। साथ ही सोशल प्लेटफॉर्म एक्स पर भी शिकायत दर्ज कराई। शुक्रवार को सिविल लाइंस पुलिस ने आरोपी ससुर, पति, देवर और सास के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। एसएचओ सिविल लाइंस आरपी शर्मा ने बताया कि विवेचना में जो भी तथ्य सामने आएगा उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी।

वीडियो वायरल कर दी थी आत्मदाह की चेतावनी

पीड़िता ने इस मामले में एक वीडियो संदेश भी सोशल साइट्स पर डाला था। जिसमें ससुर और अन्य ससुरालियों पर आरोप लगाया था। साथ ही कहा था कि यदि 23 नवंबर तक एफआईआर दर्ज नहीं हुई तो एसएसपी ऑफिस के बाहर आत्मदाह कर लेगी। उसने वीडियो में यह भी बताया था कि शिकायत के बाद जांच के नाम पर चार पर महिला थाना पुलिस और दो बार सीओ ऑफिस में जाकर बयान दे चुकी है, लेकिन कार्रवाई नहीं हुई। वीडियो वायरल होने के बाद आनन-फानन में पुलिस हरकत में आई और रात में ही पीड़िता के घर पहुंच कर उसे एफआईआर दर्ज करने का भरोसा दिया। इतना ही नहीं देर रात करीब तीन बजे एफआईआर दर्ज कर उसकी कॉपी भी पीड़िता को दे दी।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें