ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेश80 हजार में खरीदा 15 हजार का रेफ्रिजरेटर, इस मेडिकल कॉलेज में खरीद घोटाला!

80 हजार में खरीदा 15 हजार का रेफ्रिजरेटर, इस मेडिकल कॉलेज में खरीद घोटाला!

Medical College News: बस्‍ती मेडिकल कॉलेज की चिकित्सा इकाई ओपेक अस्पताल कैली में उपकरणों की खरीद में घोटाले का आरोप लगा है। आरोप है कि खरीदे गए उपकरण और सामान 4 से 5 गुना दाम पर खरीदे गए हैं।

80 हजार में खरीदा 15 हजार का रेफ्रिजरेटर, इस मेडिकल कॉलेज में खरीद घोटाला!
Ajay Singhहिन्‍दुस्‍तान,बस्तीSat, 08 Jun 2024 09:05 AM
ऐप पर पढ़ें

Medical College News: बस्‍ती मेडिकल कॉलेज की चिकित्सा इकाई ओपेक अस्पताल कैली में उपकरणों की खरीद में घोटाले का आरोप लगा है। आरोप है कि खरीदे गए उपकरण और सामान चार से पांच गुना दाम पर खरीदे गए हैं। जिम्मेदारों ने चहेते फर्म के जरिए मनमाने रेट पर खरीदारी कर करोड़ों रुपये का चूना सरकार को लगाया है। इस घोटाले की शिकायत महानिदेशक चिकित्सा शिक्षा उत्तर प्रदेश समेत उच्च अधिकारियों से की जा चुकी है। अपना गला फंसता देख जिम्मेदार अब शासन स्तर पर मामले को मैनेज करने में लगे हुए हैं। शिकायतकर्ता विष्णुदेव मिश्र का दावा है कि खरीद की जांच किसी निष्पक्ष एजेंसी से कराई जाए तो खरीद में हुए घोटाले और इसके जिम्मेदारों का पर्दाफाश हो सकता है। पिछले तीन वर्षों में हुई खरीद में बड़े पैमाने पर खेल हुआ है।

विष्णुदेव मिश्र की ओर से दिए गए शिकायती-पत्र में कहा है कि 22 मार्च 2023 को चार फ्रिज की खरीद की गई। दो फ्रिज की खरीद 70 हजार प्रति और दो की 80 हजार प्रति की दर से हुई। इस तरह कुल तीन लाख रुपये की खरीद हुई। सामान्य तौर पर 180 लीटर का फ्रिज बाजार में 15 हजार रुपये में उपलब्ध है।

आरोप है कि इस खेल में खरीदे गए सामान को बाजार दर से कई गुना ज्यादा दाम पर खरीदा गया। इस बारे में पूछे जाने पर क्रय अधिकारी डॉ. अनिल कुमार यादव ने बताया कि मेडिकल कॉलेज में सभी खरीद जेम पोर्टल से होती है। इस बारे में प्राचार्य से फोन पर बातचीत करने की कई बार कोशिश की गई, लेकिन उन्होंने कॉल रिसीव नहीं की। उनका पक्ष आने पर प्रकाशित किया जाएगा।

डीएम बोले 
बस्‍ती के डीएम अंद्रा वामसी ने कहा कि मेडिकल कॉलेज की चिकित्सा इकाई ओपेक अस्पताल कैली में उपकरणों की खरीद का मामला संज्ञान में आया है। इस प्रकरण की गहराई से जांच कराई जाएगी। इसमें जो भी दोषी मिलेगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।