ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशआज जो लोग जुल्म कर रहे उनकी फाइल मेरे पास भी आई थी, अखिलेश यादव का सीएम योगी पर निशाना, धमकी भी दी

आज जो लोग जुल्म कर रहे उनकी फाइल मेरे पास भी आई थी, अखिलेश यादव का सीएम योगी पर निशाना, धमकी भी दी

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने गुरुवार को रामपुर में भाजपा सरकार पर आजम खान को फर्जी मुकदमों में फंसाकर प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए बिना नाम लिए सीएम योगी पर निशाना साधा। यहां तक की उन्हें धमकी भी दी।

आज जो लोग जुल्म कर रहे उनकी फाइल मेरे पास भी आई थी, अखिलेश यादव का सीएम योगी पर निशाना, धमकी भी दी
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,रामपुरThu, 01 Dec 2022 07:47 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गुरुवार को आजम खान के इलाके रामपुर में हो रहे उपचुनाव में पार्टी प्रत्याशी के लिए वोट मांगा। इस दौरान भाजपा सरकार पर आजम खान को फर्जी मुकदमों में फंसाकर प्रताड़ित करने का आरोप लगाते हुए बिना नाम लिए सीएम योगी पर निशाना साधा। इतना ही नहीं, धमकी भरे लहजे में यह भी कहा कि हमें इतना बेदिल बनने को मजबूर मत करो कि जब भविष्य में हम सरकार बनाएं तो आपके खिलाफ भी वही कार्रवाई करें, जो आज आप कर रहे हैं। 

अखिलेश ने आजम खान के साथ चुनावी रैली में जनता से अपील की कि वे आगामी पांच दिसंबर को होने वाले रामपुर विधानसभा उपचुनाव में खान के प्रति हो रहे अन्याय के खिलाफ वोट दें। इस दौरान दलित नेता चंद्रशेखर आजाद भी मंच पर मौजूद रहे। 

अखिलेश ने किसी का नाम लिए बगैर कहा कि समय से ज्यादा बलवान कोई नहीं होता। आज जो लोग जुल्म कर रहे हैं, मैं उनसे कहना चाहता हूं कि जब मैं मुख्यमंत्री था तब इस समय के मुख्यमंत्री की फाइल मेरे पास आई थी, लेकिन हम समाजवादी लोग हैं और नफरत भरी या दूसरों को परेशान करने वाली राजनीति नहीं करते। मैंने वह फाइल लौटा दी थी। अगर आपको भरोसा नहीं हो तो अधिकारियों से पूछ लो। उन्होंने आगाह करते हुए कहा कि हमें इतना बेदिल बनने को मजबूर मत करो कि जब भविष्य में हम सरकार बनाएं तो आपके खिलाफ भी वही कार्रवाई करें, जो आज आप कर रहे हैं। 

मुलायम सिंह यादव के निधन से रिक्त मैनपुरी लोकसभा उपचुनाव में व्यस्त अखिलेश यादव पहली बार उपचुनाव में किसी अन्य सपा प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार करने आए थे। यादव ने कहा कि यह सिर्फ रामपुर का चुनाव नहीं है, यह भविष्य में सपा की सरकार लाने का चुनाव है, यह आदरणीय आजम खान के खिलाफ हुए अन्याय पर आवाज उठाने वाला चुनाव है। 

यह सीट जिताकर दीजिये, भाजपा अपनी सरकार नहीं बचा पाएगी

उन्होंने लोगों से कहा कि यह सीट जिताकर दीजिये और देखियेगा कि भाजपा वर्ष 2024 में अपनी सरकार नहीं बचा पाएगी। उन्होंने कहा कि एक तरफ सपा खड़ी है, तो दूसरी तरफ अन्याय करने वाले, प्रताड़ना देने वाले और फर्जी मुकदमे दर्ज कराने वाले लोग खड़े हैं। प्रदेश के उप मुख्यमंत्रियों केशव प्रसाद मौर्य और बृजेश पाठक पर हमला करते हुए सपा अध्यक्ष ने कहा कि ये दोनों ही मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं, लेकिन हमने उन्हें प्रस्ताव दिया है कि वे अपने साथ 100 विधायक लेकर आयें और हम उन्हें मुख्यमंत्री बनाएंगे।

अखिलेश ने तंज करते हुए कहा कि ऐसे उप मुख्यमंत्री पद में क्या रखा है, जब वह एक मुख्य चिकित्सा अधिकारी तक का तबादला नहीं करा सकते। दूसरे उप मुख्यमंत्री का तो विभाग ही बदल दिया गया और उनके विभाग के पास कोई बजट ही नहीं है। मैं तो कहता हूं कि आइये, मुख्यमंत्री बनिये। सपा विधायक साथ में हैं। सपा मुखिया ने कहा कि उनके लोग संविधान को मानने वाले लोग हैं और दूसरी तरह वे (भाजपा) लोग हैं जो कानून का सम्मान नहीं करते।