ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशरामलला राम प्रतिष्ठा समारोह; मुस्लिम समेत 50 देशों के प्रतिनिधियों को आमंत्रित करेगा ट्रस्ट

रामलला राम प्रतिष्ठा समारोह; मुस्लिम समेत 50 देशों के प्रतिनिधियों को आमंत्रित करेगा ट्रस्ट

आरएसएस ने प्राण प्रतिष्ठा समारोह में विदेशी प्रतिनिधियों की सूची को अंतिम रूप देने में जुटा है। आरएसएस 50 देशों में अपने ऑफिस के माध्यम से इन देशों के अधिकारियों से संपर्क करने की कोशिश कर रहा है।

रामलला राम प्रतिष्ठा समारोह; मुस्लिम समेत 50 देशों के प्रतिनिधियों को आमंत्रित करेगा ट्रस्ट
Pawan Kumar Sharmaएचटी,अयोध्याSun, 10 Dec 2023 11:06 PM
ऐप पर पढ़ें

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और वीएचपी नेता रामलला के प्राण प्रतिष्ठा समारोह में विदेशी प्रतिनिधियों की सूची को अंतिम रूप देने में जुटा है। आरएसएस गल्फ समेत 50 देशों में अपने ऑफिस के माध्यम से इन देशों के संबंधित अधिकारियों से संपर्क करने की कोशिश कर रहा है ताकि प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए आमंत्रित किया जा सके। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्र्स्ट के महासचिव चंपत राय ने बताया कि रामलला के प्रतिष्ठा समारोह के लिए 50 देशों के प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाएगा। आरएसएस इन देशों में अपने कार्यालय के माध्यम से निमंत्रण भेजेगा।

चंपत राय ने कहा कि अगर आप रामलला के प्रतिष्ठा समारोह में दुबई, सऊदी अरब और अन्य खाड़ी देशों के प्रतिनिधि आएं तो ये आश्चर्य की बात नहीं होगी। न केवल अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन बल्कि 50 देशों के प्रतिनिधि इस कार्यक्रम में शामिल होंगे।

वीवीआईपी के अलावा, ट्रस्ट की प्राथमिकता सूची में वकील भी हैं। दरअसल इसमें वह वकील शामिल हैं, जिन्होंने अयोध्या  की जिला अदालत से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक दशकों लंबी कानूनी लड़ाई में हिंदू पक्ष का प्रतिनिधित्व किया था। इसके अलावा उन कार सेवकों के रिश्तेदारों को भी बुलाया जाएगा जिन्होंने राम मंदिर आंदोलन में अपनी जान गंवाई।

राम मंदिर के उद्घाटन समारोह के लिए ट्रस्ट 3,000 वीवीआईपी समेत 7,000 लोगों को बुलाने की तैयारी है। ट्रस्ट ने कहा कि राजनीति, व्यापार, खेल, मीडिया और फिल्म सहित जीवन के विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिष्ठित लोगों के साथ-साथ देश भर के प्रमुख संतों को अयोध्या में भव्य राम मंदिर के अभिषेक समारोह के लिए अंतिम रूप दी जा रही अतिथि सूची में शामिल किया जाएगा। मंदिर ट्रस्ट ने एक बयान में कहा कि सभी चार शंकराचार्य (चार प्रमुख हिंदू मठों के प्रमुख) इस कार्यक्रम में विशेष अतिथि होंगे। इसके अलावा अन्य संतों, धार्मिक नेताओं, पूर्व सिविल सेवकों, पूर्व सेना अधिकारियों, वकीलों और संगीतकारों को भी निमंत्रण भेजा जा रहा है।

वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों की भी ले जा रही मदद

चंपत राय ने कहा कि ट्रस्ट आमंत्रित लोगों की सूची तैयार करने में वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों की मदद ले रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, दोपहर लगभग 12.15 बजे राम मंदिर के गर्भगृह में प्राण प्रतिष्ठा (अभिषेक) समारोह के दौरान अनुष्ठान करेंगे। प्रधानमंत्री के साथ आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत भी मंच साझा करेंगे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें