ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशलोकसभा नतीजों के बाद पहली बार लखनऊ पहुंचे रक्षामंत्री, बोले- यहां के विकास की गति नहीं रुकने दूंगा

लोकसभा नतीजों के बाद पहली बार लखनऊ पहुंचे रक्षामंत्री, बोले- यहां के विकास की गति नहीं रुकने दूंगा

लोकसभा चुनाव नतीजों के बाद पहली बार लखनऊ पहुंचे रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का अभिनंदन समारोह सीएमएस गोमती नगर विस्तार में आयोजित किया गया। कार्यकर्ताओं ने उन्हें फूल मालाओं से लाद दिया।

लोकसभा नतीजों के बाद पहली बार लखनऊ पहुंचे रक्षामंत्री, बोले- यहां के विकास की गति नहीं रुकने दूंगा
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,लखनऊSat, 22 Jun 2024 11:01 PM
ऐप पर पढ़ें

लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज करने के बाद पहली बार राजधानी पहुंचे रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का अभिनंदन समारोह सीएमएस गोमती नगर विस्तार में आयोजित किया गया। उत्साहित हजारों कार्यकर्ताओं ने रक्षामंत्री को फूल मालाओं से लाद दिया। फूलों की बारिश के बीच कार्यकर्ताओं का हुजूम देखकर भावुक रक्षामंत्री ने कहा, "कार्यकर्ताओं का संगम देखकर भावुक हूं। जानता हूं कि भीषण गर्मी में अपने काम छोड़कर आपने भाजपा को विजय दिलाने के लिए जो संघर्ष किया, उसकी जितनी प्रशंसा की जाए कम है। सराहना के शब्दों का अभाव होने से मैं शीश झुकाकर सभी कार्यकर्ताओं का अभिनंदन-स्वागत करता हूं। उन्होंने कहा कि लखनऊ का विकास मेरे लिए महत्वपूर्ण है। विश्वास दिलाता हूं कि विकास की गति रुकने नहीं दूंगा। हमारा प्रयास होगा कि पांच साल में लखनऊ भारत के तीन बड़े शहरों में खड़ा हो। पार्टी ने 2047 तक भारत को विकसित बनाने का संकल्प लिया है तो मैंने भी संकल्प लिया है कि सांसद रहें या न रहें, लखनऊ को विकसित बनाने का कार्य करूंगा क्योंकि मैं सांसद नहीं भी रहूंगा तो भी इतना प्रभाव रहेगा कि अगले और 5-10 साल लोग मेरी बात अवश्य सुनेंगे।"

रक्षामंत्री ने आगे कहा, "मैं दिल्ली में रहता हूं तो लखनऊ के कार्यकर्ता मुझसे बगैर मिले वापस नहीं लौटता है। मैंने जाति-पाति और धर्म के आधार पर राजनीति नहीं की है। अटलजी कहा करते थे कि छोटे मन से कोई बड़ा नहीं हो सकता है, टूटे मन से कोई खड़ा नहीं हो सकता। मैं सभी से अनुरोध करूंगा कि किसी से नाराजगी वक्त मत करिए। अटलजी का जन्म शताब्दी समारोह भव्य रूप से मनाएं। उन्होंने उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक, महानगर अध्यक्ष आनंद द्विवेदी आदि से तैयारी करने को कहा।" राजनाथ सिंह ने कहा कि कभी-कभी कार्यकर्ता चिंतित होते हैं कि अपेक्षित अंतर से जीत नहीं मिली और संकल्प पूरा नहीं हुआ। हम जानते हैं कि लोकतांत्रित व्यवस्था में परिस्थितियों के आधार पर समीकरण बदलते रहते हैं। इसलिए स्वाभाविक रूप से मतों का प्रतिशत भी घटता-बढ़ता रहता है। हर पार्टी की सीटें भी घटती और बढ़ती रहती है, लेकिन क्या यह कम है कि 1962 के बाद पहली बार यह हुआ है कि नरेंद्र मोदी को लगातार तीसरी बार जनता ने प्रधानमंत्री चुना है।

देश में लोकतंत्र की जड़ें गहरी

भारत में लोकतंत्र की जड़ें गहराई तक है। पूरी दुनिया में यह सामर्थ्य प्रस्तुत किया गया है। आज कांग्रेस को 100 से कम सीटें मिली है। 64 करोड़ लोगों ने मतदान किया और भाजपा को 30.59% और कांग्रेस को सिर्फ 13 प्रतिशत मत ही मिले हैं। तब भी कांग्रेस इतरा रही है। एनडीए को देखा जाए तो ₹40 फीसदी मत मिला है। सभी देशों ने भारत के लोकतंत्र को सराहा है। उड़ीसा में पूर्ण बहुमत से सरकार बनाई है। मैं कह सकता हूं कि मोदीजी के नेतत्व में सात वर्षों में देश की दशा दिशा और मनोदशा भी बदली है। देशवासियों का हौसला और भारतवासियों का कद अंतरराष्ट्रीय जगत पर बढ़ा है। अमेरिका, चीन और रूस भी जो कामयाबी नहीं पा सके, भारत ने वह कामयाबी भी हासिल कर दिखाया। रक्षामंत्री ने कहा कि भाजपा ऐसी पार्टी है, जिसकी अपनी विचारधारा है। दुनिया में सबसे अधिक विकास दर भारत की है। 10 वर्षों में भारत में नौजवानों के लिए अवसर और देश में आमदनी भी बढ़ी है। भ्रष्टाचार कम करने के लिए हमारी सरकार ने निरंतर प्रयोग किए हैं। 

अटलजी ने जो सपना देखा, उसे राजनाथ पूरा कर रहे: डिप्टी सीएम

उपमुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने कहा कि देश की आजादी के बाद दूसरा मौका है जब तीसरी बार सरकार बनाने का अवसर किसी दल और नेता को मिला है। भारत की ताकत रोकने के लिए अनेक षड्यंत्र हुए लेकिन हम फिर सरकार बनाने में सफल हुए। लखनऊ के लिए अटलजी ने जो सपना देखा था, उसे राजनाथ सिंह के द्वारा पूरा किया जा रहा है। सांसद दिनेश शर्मा ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता आधारित पार्टी है। आज पूरे देश में सबसे ज्यादा हमारे सांसद और विधायक हैं। लोकसभा चुनाव संयोजक एमएलसी मुकेश शर्मा ने आभार जताया। 

Advertisement