DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लापरवाही : रेलवे एंबुलेंस नहीं मिली, रिटायर्ड कर्नल ने दम तोड़ा

Ambulance

ट्रेन की चपेट में आकर घायल हुए सेना के रिटायर्ड कर्नल ने उपचार देर से मिलने के कारण दम तोड़ दिया। हादसा रविववार रात मथुरा जंक्शन पर हुआ। 82 वर्षीय रिटायर्ड कर्नल पत्नी के साथ दिल्ली से मध्यप्रदेश जा रहे थे।

मध्य प्रदेश के सागर निवासी ओमकार नाथ गुप्ता सेना की मेडिकल कोर में कर्नल के पद से सेवानिवृत्त हुए थे। रविवार को वह पत्नी सरस गुप्ता के साथ निजामुद्दीन जबलपुर एक्सप्रेस से दिल्ली से सागर जा रहे थे। ट्रेन  मथुराजंक्शन रेलवे स्टेशन पर रात करीब आठ बजे रुकी, तो ओमकार नाथ गुप्ता खाने का कुछ सामान लेने के लिए प्लेटफार्म पर उतर गए। वह जब ट्रेन में सवार हो रहे थे, तभी उनका पैर फिसल गया। तब तक ट्रेन चल चुकी थी। वह प्लेटफार्म और ट्रेन के बीच फंस गए। यात्रियों ने चेन खींच कर जब तक ट्रेन को रोका तब तक वह गंभीर रूप से घायल हो चुके थे।
सूचना मिलने के बाद आरपीएफ और जीआरपी के जवान मौके पर पहुंच गए। जीआरपी ने रेलवे की एंबुलेंस को बुलाने के लिए कॉल किया। रेलवे चिकित्सक तो मौके पहुंच गए, लेकिन करीब एक घंटे तक एंबुलेंस नहीं आई। अंत में जीआरपी के सिपाही उन्हें टेंपो द्वारा जिला चिकित्सालय लेकर पहुंचे, जहां से उन्हें सैनिक अस्पताल में भर्ती कराया। सोमवार सुबह उन्होंने दम तोड़ दिया। 

दिल्ली में तैनात है लेफ्टिनेंट बेटा 
रिटायर्ड कर्नल ओमकार नाथ गुप्ता के बेटे आनंद गुप्ता भी सेना की मेडिकल कोर में लेफ्टिनेंट हैं और वह दिल्ली के बेस अस्पताल में तैनात हैं। पिता की मौत का पता लगने के बाद वह सैनिक अस्पताल पहुंच गए। बेटे ने पिता की मौत को हादसा मानते हुए शव का पोस्टमार्टम कराए जाने से मना कर दिया। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Railway ambulance not found Retired Colonel drowned