ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशतीन दिन में दूसरी बार राहुल गांधी की यात्रा होगी स्थगित, अब इस वजह से बदलना पड़ा प्लान

तीन दिन में दूसरी बार राहुल गांधी की यात्रा होगी स्थगित, अब इस वजह से बदलना पड़ा प्लान

मणिपुर से मुंबई के लिए भारत जोड़ो न्याय यात्रा लेकर निकले राहुल गांधी एक बार फिर अपनी यात्रा को ब्रेक देंगे। अमेठी में मंगलवार सुबह उनकी यात्रा स्थगित रहेगी। इस दौरान कोर्ट में पेशी के लिए जाएंगे।

तीन दिन में दूसरी बार राहुल गांधी की यात्रा होगी स्थगित, अब इस वजह से बदलना पड़ा प्लान
Yogesh Yadavलाइ हिन्दुस्तान,अमेठीMon, 19 Feb 2024 02:51 PM
ऐप पर पढ़ें

राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा तीन दिन में दूसरी बार स्थगित होने जा रही है। शनिवार को भदोही में यात्रा को स्थगित कर राहुल गांधी वायडनार निकल गए थे। अब मंगलवार होने वाली यात्रा को स्थगित कर दिया गया है। राहुल दोपहर बाद अमेठी से आगे की यात्रा शुरू करेंगे। इस दौरान राहुल गांधी सुल्तानपुर जाएंगे। वहां मानहानि के एक मामले में राहुल गांधी की पेशी है। इसके बारे में कांग्रेस नेता और संचार विभाग के प्रभारी जयराम रमेश ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर जानकारी दी। जयराम रमेश ने बताया कि राहुल गांधी को कल 20 फरवरी सुबह सुल्तानपुर में उत्तर प्रदेश जिला न्यायालय में उपस्थित होने के लिए समन जारी किया गया है। यह मामला चार अगस्त 2018 को एक भाजपा नेता द्वारा दायर मानहानि के मुकदमे से जुड़ा है।

उन्होंने बताया कि भारत जोड़ो न्याय यात्रा कल सुबह रुक जाएगी और दोपहर 2 बजे अमेठी के फुरसतगंज से फिर अपने 20 फ़रवरी के प्रोग्राम को शुरू करेगी। उन्होंने बताया कि यात्रा का आज का कार्यक्रम निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार जारी है और शाम 4 बजे पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खडगे और राहुल गांधी बाबूगंज, अमेठी में एक जनसभा को संबोधित करेंगे।

स्वराज भवन को सामने से निहारा, अंदर नहीं गए
इससे पहले राहुल गांधी प्रयागराज में 10 साल बाद वाहन में घूमे, लेकिन अपने पुरखों के घर नहीं गए। 2014 के लोकसभा चुनाव में राहुल गांधी इलाहाबाद सीट से पार्टी प्रत्याशी के लिए प्रचार करने आए थे। तब राहुल ने पार्टी प्रत्याशी के साथ रोड शो किया था। लगभग सवा दो साल बाद राहुल शहर में आए और भारत जोड़ो न्याय यात्रा का नेतृत्व किया। यात्रा शुरू करने से पहले राहुल 20 मिनट तक स्वराज भवन के सामने खड़े रहे। उसके बाद उन्होंने यात्रा शुरू कर दी। इससे पहले राहुल के स्वराज भवन में जाने की चर्चा थी। कांग्रेसियों का दावा है कि पहली बार ऐसा हुआ कि राहुल स्वराज भवन के सामने आए, लेकिन परिसर के अंदर नहीं गए। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें