ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशविदेश में पढ़कर आए राहुल-अखिलेश, इसलिए दोनों को देश की कम समझ, राजनाथ के नामांकन में पहुंचे सीएम धामी ने कसा तंज

विदेश में पढ़कर आए राहुल-अखिलेश, इसलिए दोनों को देश की कम समझ, राजनाथ के नामांकन में पहुंचे सीएम धामी ने कसा तंज

राजनाथ सिंह के नामांकन लखनऊ पहुंचे उत्तराखंड के सीएम पुष्कर सिंह धामी ने कहा, (सपा) प्रमुख अखिलेश यादव के दावों पर तंज कसते हुए कहा कि राहुल बाबा और अखिलेश बाबा विदेशों में पढ़कर आये हैं।

विदेश में पढ़कर आए राहुल-अखिलेश, इसलिए दोनों को देश की कम समझ, राजनाथ के नामांकन में पहुंचे सीएम धामी ने कसा तंज
Dinesh Rathourभाषा,लखनऊMon, 29 Apr 2024 05:24 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को 400 सीट मिलने पर संविधान बदलने और आरक्षण खत्म करने से जुड़े कांग्रेस नेता राहुल गांधी और समाजवादी पार्टी (सपा) प्रमुख अखिलेश यादव के दावों पर तंज कसते हुए कहा कि राहुल बाबा और अखिलेश बाबा विदेशों में पढ़कर आये हैं, इसलिए दोनों को देश के बारे में कम समझ है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के नामांकन पत्र दाखिला करने के मौके पर यहां आये पुष्कर सिंह धामी ने 'पीटीआई-भाषा' से खास बातचीत की। जब उनसे पूछा गया कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और समाजवादी पार्टी (सपा) के प्रमुख अखिलेश यादव हर सभाओं में यह दावा कर रहे हैं कि भाजपा ने 400 पार का नारा इसलिए दिया कि वह संविधान बदल सके और आरक्षण समाप्त कर सके, इसके जवाब में धामी ने कहा, ''मोदी जी और भाजपा कभी आरक्षण के विरोध में नहीं रहे।

मोदी जी आरक्षण के बहुत बड़े पक्षधर रहे हैं। यह जरूर है कि राहुल बाबा और अखिलेश बाबा विदेशों में पढ़कर आये हैं इसलिए दोनों को देश की समझ कम है।'' उन्होंने आरोप लगाया कि आरक्षण का पिछड़ों, दलितों, आदिवासियों के लिए जो प्रावधान संविधान में किया गया है, उस आरक्षण को ये (विपक्षी दल) लोग बांटना चाहते हैं। वह भी एक धर्म विशेष के लोगों को देना चाहते हैं। उनकी जो निजी संपत्तियां हैं, मेहनत से कमाई है, उस कमाई को भी एक वर्ग विशेष (मुसलमानों) को देना चाहते हैं। धामी ने एक सवाल के जवाब में कहा, उत्तराखंड में पांच सीट के मतदाता प्रधानमंत्री मोदी को तीसरी बार प्रधानमंत्री बनाने के लिए उत्साहित हैं। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में मुख्य लड़ाई किसी से नहीं है। हमारी लड़ाई खुद से है कि हम पांच सीट में से कौन सी सीट पर सबसे ज्यादा मतों से जीतेंगे। विपक्षी दलों के गठबंधन को लेकर पूछे जाने पर मुख्यमंत्री धामी ने कहा कि 'इंडिया' गठबंधन का कोई असर नहीं है। उन्होंने कहा कि लोग भली भांति जानते हैं कि यह गठबंधन सरकार बनाने के लिए नहीं, यह परिवार और भ्रष्‍टाचार को बचाने के लिए है, भ्रष्टाचार बढ़ाने के लिए है।

धामी ने दावा किया कि ये गठबंधन अपना अस्तित्व बचाने के लिए है, इसलिए लोगों का भरोसा इस गठबंधन पर नहीं है। धामी ने कहा कि यह परिवारवादी दलों और देश में भ्रष्टाचार, तुष्टिकरण करने वाले सारे लोगों का गठबंधन है, यह 'भानुमति का कुनबा' है। समान नागरिक संहिता के बारे में उन्होंने कहा कि, हम कह सकते हैं कि समान नागरिक संहिता को लेकर उत्तराखंड के अंदर विधेयक बन गया है। इसे भाजपा के संकल्प पत्र में प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व में पूरे देश में लागू करने का संकल्प लिया गया है। धामी ने दावा किया कि देश आज समान नागरिक संहिता की ओर बढ़ गया है। उन्होंने कहा कि देश 'एक निशान, एक विधान, एक प्रधान' पर चल पड़ा है और अनुच्छेद 370 समाप्त कर दिया गया है।

उन्होंने कहा कि समान नागरिक संहिता की शुरुआत हो गयी है और ये (विपक्षी) अभी तुष्टिकरण की राह पर हैं जो मुस्लिम लीग का एजेंडा लागू करने की बात करते हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की सराहना करते हुए कहा कि इस समय देश समान नागरिक संहिता की ओर आगे बढ़ चुका है। मोदी जी के नेतृत्व में अटक से लेकर कटक तक, कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक, पूरब से लेकर पश्चिम, उत्तर से लेकर दक्षिण तक पूरा देश कदमताल करते हुए आगे बढ़ गया है। दुनिया भी देख रही है। 'इंडिया' गठबंधन पर तंज कसते हुए उन्होंने कहा, यह सब देशद्रोही शक्तियों को पच नहीं रहा है। इसलिए तमाम तरह के हथकंडे अपना रहे हैं। पूर्व प्रधानमंत्री एच. डी. देवेगौड़ा के पोते एवं कर्नाटक में हासन लोकसभा सीट से सांसद प्रज्वल रेवन्ना से जुड़े 'सेक्स स्कैंडल' मामले की याद दिलाने पर धामी ने कहा कि जो भी कानून की परिधि में आएगा, कानून अपना काम करेगा।

प्रज्वल रेवन्ना ने मौजूदा आम चुनाव में हासन लोकसभा सीट से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के उम्मीदवार के रूप में चुनाव लड़ा है। इस सीट पर 26 अप्रैल को मतदान हुआ। जद(एस) पिछले साल सितंबर में राजग में शामिल हुई थी। राहुल गांधी और अखिलेश द्वारा भाजपा पर सीबीआई, ईडी और आयकर का दुरुपयोग करने का आरोप लगाए जाने पर धामी ने कहा कि ईडी, सीबीआई, ये सब कांग्रेस के जमाने की एजेंसियां हैं, राहुल गांधी जब इस प्रकार की बातें करते हैं तो उन्हें याद करना चाहिए कि ऐतिहासिक रूप से देश को भ्रष्टाचार देने का काम उन्हीं की पार्टी ने किया। उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री ने कहा, आपातकाल का जो कलंक देश पर लगा यह उन्हीं (राहुल) की दादी इंदिरा गांधी के शासनकाल की घटना है, आपकी मां, आपके पिता जी, दादी जी के शासन में जिस प्रकार देश में तुष्टिकरण हुआ और एक वर्ग विशेष को आगे बढ़ाने का काम किया गया, जिस तरह भ्रष्टाचार हुआ, वह भी जनता को बताते चलिए। चुनावी बॉण्ड के बहाने जबरन चंदा वसूली के आरोप पर धामी ने कहा कि यह तो सबके सामने है।

धामी ने कहा कि विपक्ष के कई नेता भ्रष्टाचार के आरोपों में जेल में हैं, कुछ जमानत पर भी हैं। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी और सोनिया गांधी भी जमानत पर हैं। उन्होंने कहा कि देश के अंदर पहली बार भ्रष्टाचार को लेकर इतनी बड़ी कार्रवाई हो रही है, देश में पारदर्शिता लाने का कार्य हो रहा है। उन्होंने कहा कि मोदी जी ने कहा है कि 'न खाउंगा न खाने दूंगा।' कई इलाकों में राजपूत समाज और अन्य जातियों की भाजपा विरोधी पंचायत के बारे में पूछे जाने पर धामी ने कहा, 'सभी समाज के लोग इस समय मोदी जी के साथ हैं और मोदी जी ने कभी किसी समाज को बांटने का काम नहीं किया, सारे समाज को जोड़ने का काम किया, 'सबका साथ, सबका विकास, सबका प्रयास, सबका विश्वास' यह मूलमंत्र रहा है। छिटपुट मामलों का कोई प्रभाव नहीं है।