ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशजिला कारागार के शौचालय में बंदी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, रेप के आरोप में सजा काट रहा था युवक

जिला कारागार के शौचालय में बंदी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, रेप के आरोप में सजा काट रहा था युवक

पीलीभीत के जिला कारागार में एक बंदी ने शौचालय में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। इस घटना के बाद से पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया है। सूचना मिलने पर आला अधिकारी मौका मुआयना करने जेल पहुंचे।

जिला कारागार के शौचालय में बंदी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, रेप के आरोप में सजा काट रहा था युवक
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,पीलीभीतTue, 20 Feb 2024 06:32 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के पीलीभीत से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जहां जिला कारागार के शौचालय में एक बंदी ने मफलर से फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। इससे पुलिस प्रशासन में हडकंप मच गया। दूसरी ओर सूचना मिलने पर एसडीएम, सीओ सिटी समेत कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची। वहीं शव को को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया। 

कोतवाली पूरनपुर क्षेत्र के सिमराय गांव के रहने वाला 23 साल का सुखविंदर राम के खिलाफ साल 2016 में कोतवाली  में दुष्कर्म और पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। साल 2020 में वह जमानत पर बाहर आया था। लेकिन 7 फरवरी को पेशी के दौरान न्यायालय के आदेश पर दोबारा जेल भेज दिया गया था। मंगलवार दोपहर साढ़े 12 बजे उसने शौच के लिए जाने की बात कही। इसके बाद जेल के नंबरदार उसको लेकर शौचालय में गए। जब काफी देर तक वह शौचालय से बाहर नहीं आया तो जेल कर्मियों ने अंदर झांककर देखा। शौचालय के अंदर वह रोशनदान पर मफलर का फंदा बनाकर लटका हुआ था। यह देखकर जेल कर्मियों के होश उड़ गए। 

मौके पर पहुंचे जेल डॉक्टरों ने उसको मृत घोषित कर दिया। जेल में बंदी के आत्महत्या करने की सूचना पर एसडीएम सदर देवेंद्र कुमार, सीओ सिटी दीपक चतुर्वेदी, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नरेश त्यागी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पंचायतनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। सीओ सिटी दीपक चतुर्वेदी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का सही कारण स्पष्ट हो सकेगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें