DA Image
27 जनवरी, 2021|4:34|IST

अगली स्टोरी

प्रयाग माघ मेला की तैयारियां, 15 दिन में होगा कल्पवासियों का कोरोना टेस्ट

प्रयागराज मेला प्राधिकरण सभागार में गुरुवार को प्राधिकरण की नौंवी बैठक हुई। बैठक में तमाम महत्वपूर्ण प्रस्ताव रखे गए। मंडलायुक्त आर रमेश कुमार की अध्यक्षता में हुई बैठक में तय हुआ कि संगम तट पर वर्षपर्यंत कार्यक्रम होते हैं। इसलिए सालभर होने वाले कार्यक्रमों का ई-पंचांग तैयार होगा। मेला प्राधिकरण एक एप बनाएगा, जिस पर यहां की गतिविधियों को अपलोड किया जाएगा। एप के जरिए लोगों को प्रयागराज में होने वाले कार्यक्रमों और उसके लिए प्रशासन की ओर से तैयार किए गए नियमों की जानकारी हो जाएगी।  वर्ष 2021 के ई-पंचांग का काम शुरू करने के प्रस्ताव प्राधिकरण बोर्ड की बैठक में पास भी हो गया। 

प्राधिकरण बोर्ड की बैठक में माघ मेला 2021 पर भी चर्चा हुई। इस दौरान तय हुआ कि कोविड-19 के कारण जारी निर्देशों का पालन कराया जाएगा। डीएम भानुचंद्र गोस्वामी ने बताया कि हर श्रद्धालु को अपना आरटीपीसीआर निगेटिव होने की रिपोर्ट लानी होगी। हर 15 दिन में यानी कल्पवास की अवधि में कुल दो बार एंटीजन टेस्ट भी होगा। कोरोना पॉजिटिव मरीजों का डेटाबेस तैयार किया जाएगा। सभी संस्थाओं के शिविरों में साप्ताहिक जांच भी कराई जाएगी। 

आईजी केपी सिंह ने अवैध दुकानों को मेला की अवधि में पूरी तरह से हटाने के लिए कहा। सभी घाटों से प्रशासनिक नावों को चलाया जाएगा। डीएम भानुचंद्र गोस्वामी ने बोट क्लब, मेला प्राधिकरण व सेना को इसके लिए संयुक्त रूप से काम करने का सुझाव दिया। अब तक केवल वीआईपी घाट से ही प्रशासनिक मोटर बोट चलाई जाती रही है।

गोले में बैठकर सुनेंगे प्रवचन
प्रयागराज। माघ मेला 2021 में संतों के शिविरों में कोरोना के कारण सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जाएगा। इसके लिए दो गज दूरी रखी जाएगी। दूरी तय करने के लिए शिविरों में गोला बनाया जाएगा। इसका निर्देश सभी को दिया जा रहा है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Preparations for Magh Mela in Prayag Kalpavasi s corona test will be done in 15 days