DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › यूपी चुनाव के लिए राजा भैया ने तैयार किया प्लान, जानिए सीएम याेगी के खिलाफ क्यों नहीं उतारेंगे प्रत्याशी  
उत्तर प्रदेश

यूपी चुनाव के लिए राजा भैया ने तैयार किया प्लान, जानिए सीएम याेगी के खिलाफ क्यों नहीं उतारेंगे प्रत्याशी  

वरिष्ठ संवाददाता,अयोध्या Published By: Amit Gupta
Wed, 01 Sep 2021 12:05 PM
यूपी चुनाव के लिए राजा भैया ने तैयार किया प्लान, जानिए सीएम याेगी के खिलाफ क्यों नहीं उतारेंगे प्रत्याशी  

रघुराज प्रताप सिंह ‘राजा भैया’ ने ‘जनसेवा संकल्प यात्रा’ के जरिए यूपी विधानसभा चुनाव के लिए बिगुल फूंक दिया। राजा भैया ने  मंगलवार को रामलला और हनुमानगढ़ी का दर्शन-पूजन कर मिशन 2022 का आगाज किया। हालांकि राजा भैया ने इस यात्रा को सांगठनिक तौर पर मजबूत करने की बात करते हैं, लेकिन 2022 के चुनाव के लिहाज से कहीं पर निगाहें, कहीं पर निशाना वाली कहावत सटीक बैठती नजर आ रही है।

जनसत्ता दल लोकतांत्रिक के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजा भैया ने प्रतापगढ़ से लाव-लश्कर लेकर रामनगरी अयोध्या पहुंचे। अयोध्या में उन्होंने अपने दोनों बेटों शिवराज, बृजराज एवं संगठन के पदाधिकारियों संग रामलला और हनुमानगढ़ी में मत्था टेका। दर्शन पूजन के बाद सिविल लाइन स्थित सर्किट हाउस में पत्रकारों से बात करते हुए राजा भैया ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ चुनाव में उनकी पार्टी प्रत्याशी नहीं उतारेगी। उन्होंने कहा कि उनकी पीठ से हमारा तीन पुश्तों का नाता रहा है। इसलिए उनके सम्मान मे प्रत्याशी नहीं उतारेंगे। 

सौ सीटों पर उतारेंगे प्रत्याशी : 

उन्होंने गठबंधन के मुद्दे पर अभी किसी दल से कोई बात नहीं हुई है। एक सवाल के जवाब मे कहा कि आवैसी से कोई गठबंधन नहीं होगा औ न ही वे चुनाव लड़ेंगे, क्योंकि बंगाल के चुनाव में भी वे चुनाव लड़ने की बात कर रहे थे पर नहीं लड़े। उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य पार्टी को मजबूत करना है। जन सेवा संकल्प यात्रा के जरिए काशी, मिर्जापुर, भदोही, बलिया व बुंदेलखंड का दौरा करने संगठन को मजबूत करेंगे। उन्होंने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव में प्रदेश की लगभग 100 सीटों पर प्रत्याशी उतारेंगे। राजा भैया ने कहा कि युवाओं को जोश-बुर्जुगों का अनुभव से पार्टी बढ़ेगी। उन्होंने किसान आन्दोलन  में शामिल किसानों को नकली करार देते हुए कहा कि असली किसान खेतों में पसीना बहा रहे हैं। उन्होंने कहा कि धरना-प्रदर्शन के जरिए भ्रम फैलाया जा रहा है। देश में एमएसपी खत्म नहीं होगी।  

संबंधित खबरें