ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशसचिन पायलट, प्रियंका गांधी की भी हो रही तौहीन, कांग्रेस पर प्रमोद कृष्‍णम ने की आरोपों की बौछार

सचिन पायलट, प्रियंका गांधी की भी हो रही तौहीन, कांग्रेस पर प्रमोद कृष्‍णम ने की आरोपों की बौछार

अपने निष्‍कासन के बाद आचार्य प्रमोद कृष्‍णम कांग्रेस पर जमकर बरसे। कहा कि सचिन पायलट का बहुत अपमान हुआ है लेकिन वे भगवान शिव की तरह जहर पिये जा रहे हैं। प्रियंका गांधी की भी बहुत तौहीन हो रही है।

सचिन पायलट, प्रियंका गांधी की भी हो रही तौहीन, कांग्रेस पर प्रमोद कृष्‍णम ने की आरोपों की बौछार
Ajay Singhलाइव हिन्‍दुस्‍तान ,संभलSun, 11 Feb 2024 02:36 PM
ऐप पर पढ़ें

Pramod Krishnam's press conference: कांग्रेस से छह साल के लिए निष्‍कासित किए जाने के बाद आचार्य प्रमोद कृष्‍णम ने रविवार को संभल में प्रेस कांफ्रेंस की। वह कांग्रेस पर जमकर बरसे। उन्‍होंने कांग्रेस नेतृत्‍व पर आरोपों की बौछार कर दी। अपने आरोपों के साथ बड़े-बड़े दावे भी किए। प्रमोद कृष्‍णम ने कहा कि सचिन पायलट का बहुत अपमान हुआ है लेकिन वे भगवान शिव की तरह जहर पिये जा रहे हैं। उसी तरह प्रियंका गांधी की भी बहुत तौहीन हो रही है। देश की आज़ादी के बाद किसी भी पदाधिकारी के सामने ऐसा नहीं लिखा गया, जो प्रियंका गांधी के सामने लिखा गया। उनके आगे लिखा गया प्रियंका गांधी, 'बिना किसी पोर्टफोलियो के महासचिव'(General Secretary without any Portfolio)। सवाल इस बात का है कि ये जो अपमान किया जा रहा है ये किसके इशारे पर हो रहा है?

अपने निष्‍कासन को लेकर कांग्रेस नेतृत्‍व पर तंज कसते हुए प्रमोद कृष्‍णम ने कहा 'मुझे कल रात कई न्यूज चैनलों के माध्यम से ये जानकारी मिली की कांग्रेस पार्टी ने एक चिट्ठी जारी की है। जिसमें उन्होंने कहा है कि पार्टी विरोधी गतिविधियों के कारण आचार्य प्रमोद कृष्णम को 6 साल के लिए पार्टी से निष्काषित किया जाता है। सबसे पहले मैं कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व का आभार व्यक्त करता हूं कि उन्होंने मुझे कांग्रेस से मुक्ति देने का फरमान जारी किया। अब केसी वेणुगोपाल या मल्लिकार्जुन खरगे ये बताएं कि ऐसी कौन सी गतिविधिया हैं जो पार्टी के विरोध में थीं। क्या भगवान राम का नाम लेना पार्टी विरोधी है?' 

संकल्‍प लेता हूं...आजीवन रहूंगा पीएम मोदी के साथ 
प्रमोद कृष्‍णम ने कहा, '16-17 साल की उम्र में मैंने जो वचन राजीव गांधी को दिया था वो आज तक निभाया है और आज इस उम्र में एक संकल्प ले रहा हूं कि मैं आजीवन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ खड़ा रहूंगा।' 

पीएम मोदी से नफरत करती है कांग्रेस 
प्रमोद कृष्‍णम ने आरोप लगाया कि कांग्रेस पीएम मोदी से नफरत करती है। उन्‍होंने कहा, 'मैं कांग्रेस पार्टी का नौकर नहीं था। मैंने नौकरी भी नहीं मांगी थी। राम राज्य का सपना देखने वाले पहले व्यक्ति महात्मा गांधी थे। पीएम मोदी उनके सपनों को पूरा कर रहे हैं। अगर पीएम मोदी देश के कल्याण के लिए फैसले ले रहे हैं तो इसकी सराहना की जानी चाहिए लेकिन कांग्रेस पार्टी पीएम मोदी से इतनी नफरत करती है कि अब उन्हें पूरे देश से नफरत होने लगी है। अब वे 'सनातन' को मिटाना चाहते हैं। वे पीएम मोदी से इतनी नफरत करते हैं कि उनसे मिलने वाले किसी भी व्यक्ति से नफरत करने लगते हैं। बस इतना ही मेरा गुनाह है कि मैं पीएम नरेन्‍द्र मोदी से मिला। उनसे पूछिए कि भगवान राम के प्राण प्रतिष्‍ठा समारोह में शामिल होना, श्री कल्कि धाम का शिलान्‍यास समारोह करना और इस समारोह में पीएम मोदी, सीएम योगी और केंदीय मंत्री स्‍मृति ईरानी को निमंत्रित करना क्‍या इतना बड़ा गुनाह है कि आप 40 साल की हमारी तपस्‍या को खत्‍म कर देंगे। तकलीफ हुई है लेकिन मैं कांग्रेस के उन नेताओं को धन्यवाद देना चाहता हूं जिन्होंने मुझे पार्टी से निकालने में अहम भूमिका निभाई। उनसे आग्रह करना चाहता हूं कि भगवान राम का वनवास 14 वर्ष का था। इस छह साल के निष्‍कासन को बढ़ा कर 14 वर्ष कर दिया जाए।' 

सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाओं की बाढ़ 
प्रमोद कृष्‍णम के निष्‍कासन के बाद से ही उनके समर्थन और विरोध में सोशल मीडिया में प्रतिक्रियाओं की बाढ़ आ गई है। इस बीच उन्‍होंने अपने एक्‍स अकाउंट पर पोस्‍ट किया था कि राम और  राष्‍ट्र से समझौता नहीं किया जा सकता। रविवार दोपहर बुलाई प्रेस कांफ्रेंस में उन्‍होंने कहा कि सवाल इस बात का है कि वो कांग्रेस जो महात्मा गांधी की कांग्रेस थी। आज उस कांग्रेस को किस रास्ते पर लाकर खड़ा किया गया है। क्या कांग्रेस में सिर्फ वो रह सकते हैं जो सनातन को मिटाने की बात करें? मैं ये साफ कर देना चाहता हूं कि 'राम और राष्ट्र' पर समझौता नहीं किया जा सकता है। निष्कासन बहुत छोटी चीज है। 

हाल में पीएम मोदी से मिले थे आचार्य प्रमोद कृष्‍णम 
बता दें कि आचार्य प्रमोद कृष्‍णम ने हाल ही में पीएम मोदी से मुलाकात की थी। इस दौरान उन्‍होंने पीएम को 19 फरवरी को कल्कि धाम के शिलान्यास समारोह का निमंत्रण भी दिया था। मुलाकात के बाद उन्‍होंने सोशल मीडिया प्‍लेटफार्म पर तस्‍वीर शेयर करते हुए पीएम मोदी की जमकर तारीफ की थी। शनिवार को उन्‍हें छह साल के लिए कांग्रेस से निष्‍कासित कर दिया गया। कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल की ओर से जारी आदेश में कहा गया है कि अनुशासनहीनता की शिकायतों और पार्टी के खिलाफ बार-बार बयानबाजी करने के आधार पर कार्रवाई की गई है। कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने प्रमोद कृष्णम को पार्टी से बाहर निकालने के लिए उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रस्ताव को मंजूरी दी है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें