ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशकोरोना काल में डाकियों ने चिट्ठी नहीं घरों तक पहुंचाए 222 करोड़ रुपये, गांववालों के खाते भी खोले

कोरोना काल में डाकियों ने चिट्ठी नहीं घरों तक पहुंचाए 222 करोड़ रुपये, गांववालों के खाते भी खोले

डाकिया को देखते ही चेहरे फिर खिलने लगे। अब वजह चिट्ठियां नहीं बल्कि नकदी है जिसका भुगतान बिना बैंक-डाकखाने की लाइन में लगे ग्रामीणों को मिलने लगा है। कोरोना काल में चिट्ठियों की बजाय डाकियों ने...

कोरोना काल में डाकियों ने चिट्ठी नहीं घरों तक पहुंचाए 222 करोड़ रुपये, गांववालों के खाते भी खोले
now the postman will receive mobile reception
धर्मेन्‍द्र मिश्र ,गोरखपुर Fri, 08 Jan 2021 07:30 PM
ऐप पर पढ़ें

डाकिया को देखते ही चेहरे फिर खिलने लगे। अब वजह चिट्ठियां नहीं बल्कि नकदी है जिसका भुगतान बिना बैंक-डाकखाने की लाइन में लगे ग्रामीणों को मिलने लगा है। कोरोना काल में चिट्ठियों की बजाय डाकियों ने परिक्षेत्र के साढ़े सात लाख से ज्यादा घरों तक 222 करोड़ रुपये पहुंचाए। लॉकडाउन के मुश्किल समय में इस सुविधा से काफी सहूलियत मिली।

इण्डिया पोस्ट पेमेंट बैंक के अफसरों के मुताबिक कोरोना काल में गोरखपुर परिक्षेत्र के 13 जिलों के विभिन्न बैंकों के ग्रामीण खाताधारकों को घर पर जरूरतभर की रकम मुहैया कराई। इस दौरान प्रशासन की पहल पर कोविड प्रोटोकॉल का बखूबी पालन कर 3 हजार डाकियों ने गांवों में कैम्प लगाए। इन कैंपों के जरिए किसानों, मनरेगा मजदूरों व दिव्यांगों व वृद्धों को उनके बैंक खाते से आधार इनबेल पेमेंट सिस्टम (एईपीएस) के माध्यम से रकम का भुगतान किया। इतना ही नहीं करीब 3 लाख ग्रामीणों के इण्डिया पोस्ट पेमेंट बैंक में खाते भी खोले गए। साथ ही सभी के मोबाइल में बैंक का एप भी अपलोड कराया गया।

जनधन की रकम का भुगतान
केंद्र सरकार ने लॉकडाउन के दौरान महिलाओं के जनधन खातों में मदद की रकम भेजी। इस रकम का भी भुगतान डाकियों ने घर-घर किया। एक बार में एईपीएस के जरिए अधिकतम 10 हजार तक का भुगतान किया गया।

आजमगढ जिले के 1.30 लाख ग्रामीणों ने सर्वाधिक रकम निकाली
इण्डिया पोस्ट पेमेंट बैंक के मुताबिक गोरखपुर परिक्षेत्र में आजमगढ जिले के 1.30 लाख ग्रामीणों ने सर्वाधिक 45 करोड़ की रकम विभिन्न बैंकों के खाते से निकाली। दूसरे स्थान पर गोरखपुर के ग्रामीण रहे। यहां के 1.05 लाख ग्रामीणों ने 25 करोड़ रुपये निकाले।

गोरखपुर परिक्षेत्र के 13 जिले
जिला             ग्रामीण             रकम
आजमगढ 1.30 लाख             45 करोड़

गोरखपुर            1.05 लाख             25 करोड़
महराजगंज 0.60 लाख             14 करोड़

बहराइच             0.50 लाख             11 करोड़
बलरामपुर 0.45 लाख             10.10 करोड़

बस्ती             1.02 लाख             21.20 करोड़
देवरिया             0.80 लाख             18.20 करोड़

गोण्डा             0.45 लाख             12.50 करोड़
संतकबीरनगर 0.70 लाख             16.50 करोड़

कुशीनगर             0.30 लाख             10.05 करोड़
मऊ             0.56 लाख             14.80 करोड़

श्रावस्ती             0.22 लाख             4.50 करोड़
सिद्वार्थनगर 0.60 लाख            17.20 करोड़

कोरोना संक्रमण काल में इण्डिया पोस्ट पेमेंट बैंक के सहयोग से डाकियों ने परिक्षेत्र के 13 जनपदों के करीब 7.57 लाख ग्रामीणों को 222 करोड़ रुपये उनके खाते से भुगतान कराया। खास बात यह रही कि ग्रामीणों को यह रकम उन्हे घर बैठे ही मिली। इस दौरान डाकियों ने न सिर्फ ग्रामीणों की मदद की बल्कि उन्हें कोरोना से बचाव को लेकर जागरूक भी किया।
आकाश दीप चक्रवर्ती, पोस्ट मास्टर जनरल गोरखपुर परिक्षेत्र