ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशयूपी के इस शहर में लापता हो गए विधायक और मेयर? गली में गुमशुदा की तलाश का लगा बैनर, जानें क्या है सच्चाई

यूपी के इस शहर में लापता हो गए विधायक और मेयर? गली में गुमशुदा की तलाश का लगा बैनर, जानें क्या है सच्चाई

यूपी के मेरठ शहर में विधायक और मेयर अचानक गायब हो गए। दोनों कहां गए, किसी को कुछ नहीं पता। विधायक और मेयर के लापता होने के गली में पोस्टर भी लगा दिए गए, लेकिन इस पोस्टर की सच्चाई कुछ और ही थी।

यूपी के इस शहर में लापता हो गए विधायक और मेयर? गली में गुमशुदा की तलाश का लगा बैनर, जानें क्या है सच्चाई
Dinesh Rathourसंवाददाता,मेरठMon, 26 Sep 2022 04:27 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

यूपी के मेरठ शहर में विधायक और मेयर अचानक गायब हो गए। दोनों कहां गए, किसी को कुछ नहीं पता। विधायक और मेयर के लापता होने के गली में पोस्टर भी लगा दिए गए, लेकिन इस पोस्टर की सच्चाई कुछ और ही थी। विधायक और मेयर के लापता के पोस्टर की जब सच्चाई सामने आई तो लोग भी हैरान रह गए।  दरअसल चार दिनों की बारिश और नगर निगम की लापरवाही चलते  तमाम इलाकों में पानी भर गया है। विधायक और नगर निगम का इस ओर ध्यान न दिए जाने को लेकर एआईएमआईएम ने शहर विधायक रफीक अंसारी और मेयर सुनीता वर्मा के खिलाफ क्षेत्र में बैनर लगाकर उन्हें गुमशुदा बताया है।

सवाल उठाए हैं कि चार महीने से जनता परेशान है। दोनों माननीय बताएं कि बच्चे स्कूल कैसे जाएं। दुकानदार कहां जाएं। कई गलियों में पोस्टर लगाकर जवाब मांगा है। उधर, दोनों माननीयों का कहना है कि एआईएमआईएम और उसके नेताओं को जनता अच्छी तरह से जानती है।

एआईएमआईएम मेरठ की ओर से बुनकर नगर, इस्लामाबाद, विकासपुरी क्षेत्र में जलभराव को लेकर बैनर लगाकर शहर विधायक रफीक अंसारी और मेयर सुनीता वर्मा को गुमशुदा बताया है। कहा है कि पिछले चार माह से बुनकर नगर, विकास पुरी, किदवई नगर व इस्लामाबाद रोड पानी में डूबा हुआ है। शहर विधायक और मेयर जनता के बार बार गुहार लगाने के बावजूद सुध लेने को तैयार नहीं हैं। इस इलाके में लाखों की आबादी रहती है। हाल यह है कि लोग घरों से नहीं निकल पा रहे हैं। बच्चे स्कूल नहीं जा पा रहे हैं। मस्जिदों में जाना दुश्वार है। कारोबार का हाल यह है कि लोगो ने दुकानें खाली करना शुरू कर दिया है। न निगम से कोई मदद है न विधायक निधि से। जनता ने जनप्रतिनिधियो को चुनकर निगम और विधानसभा भेजा था। अब क्षेत्र के लोग दोनों को खोज रहे हैं। जवाब मांग रहे हैं।

जनता सब जानती है

शहर विधायक रफीक अंसारी ने बताया, एआईएमआईएम और इसके नेताओं को जनता अच्छी तरह से जानती है। मैं मेरठ से लखनऊ तक लगातार जनता के लिए उपलब्ध हूं। यह मुझे बताने की जरूरत नहीं है। यह सब राजनीति कर रहे हैं और कुछ नहीं।

केवल राजनीति है और कुछ नहीं

मेयर सुनीता वर्मा का कहना है कि अब नगर निगम का चुनाव आया है तो केवल राजनीति है और कुछ नहीं। जनता जानती है कि बैनर लगाने वाली पार्टी के नेता केवल भड़काने का काम करते हैं। एक मेयर के नाते शहर में सबसे ज्यादा क्षेत्र में रहकर काम किया है

epaper