ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेश पुलिस ने फौजी को दिलाई दुल्हन, थाने में शादी के बाद बंटी मिठाईयां

पुलिस ने फौजी को दिलाई दुल्हन, थाने में शादी के बाद बंटी मिठाईयां

मेरठ में मंगलवार को पुलिस थाने में शादी हुई। दरअसल एक फौजी ने पुलिस में शिकायत दर्ज की थी कि उसने एक साल पहले कोर्ट मैरेज की थी। पिछले एक हफ्ते से उसकी अपनी पत्नी से बात नहीं हो रही।

 पुलिस ने फौजी को दिलाई दुल्हन, थाने में शादी के बाद बंटी मिठाईयां
Atul Guptaसंवाददाता,मेरठWed, 23 Nov 2022 06:56 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

मेरठ के टीपी नगर थाने में मंगलवार को एक अजीब नजारा देखने को मिला। थाने में पति- पत्नी के घरेलू विवाद की जगह एक बिछड़े हुए प्रेमी युगल को पुलिस ने मिलवाया। थाने में ही युवती की परिजनों के सामने दोनों ने एक दूसरे के गले में जय माला पहनाई। इसके बाद दुल्हा दुल्हन ने थाने में मौजूद सभी लोगों को मिठाई खिलाई। इसके बाद परिजनों से आर्शीवाद लिया। युवती के परिजनों ने थाने से ही अपनी बेटी की विदाई की।

मवाना का रहने वाला श्रीनगर में तैनात एक फौजी एसएसपी के पास पहुंचा। उसने एसएसपी रोहित सिंह सजवाण से शिकायत दर्ज कराई कि उसने एक साल पहले रोहटा रोड की रहने वाली अपनी प्रेमिका से कोर्ट मैरिज कर ली थी। वह डयूटी पर चला गया। युवती अपने परिजनों के पास रह रही थी। एक साल से उसकी मोबाइल पर लगातार बात हो रही थी। एक हफ्ते से युवती का मोबाइल बंद हो गया। उसके पड़ोस के रहने वाले लोगों ने बताया कि उसकी पत्नी को उसके परिजनों ने एक कमरे में बंधक बनाकर रखा हुआ है। उसे डर है कि वह उसकी हत्या न कर दें। उसने कहा कि उसकी पत्नी को बंधन मुक्त कराया जाए। एसएसपी ने तुरंत ही सारे मामले को गंभीरता से लेते हुए इंस्पेक्टर टीपी नगर को मौके पर भेजा।

टीपी नगर पुलिस युवती व उसके परिजनों को लाई थाने

मंगलवार सुबह टीपी नगर पुलिस युवती व उसके परिजनों को थाने में लाई। फौजी ने पुलिस के सामने ही युवती के परिजनों को अपनी शादी के कोर्ट मैरिज के कागज दिखाए। इसके बाद पुलिस ने युवती के परिजनों को काफी समझाया। इसके बाद थाना परिसर में दोनों ने एक दूसरे के गले में वरमाला भी डाली। इसके बाद थाने में तैनात पुलिस अधिकारियों व युवती के परिजनों ने उसे मिठाई खिलाकर आर्शीवाद दिया। इसके बाद परिजनों ने अपनी बेटी को फौजी के साथ थाने से ही विदा किया। इंस्पेक्टर टीपी नगर संत शरण सिंह का कहना है कि फौजी ने कोर्ट मैरिज कर रखी थी। कागज के आधार पर युवती के परिजनों ने युवती को फौजी के साथ रजामंदी के साथ भेज दिया।

epaper